गुलाब संदेश | Gulab sandesh in Hindi

0.0 from 0 रिव्यूज़
रेट करें
द्वारा Bishakha Kumari Saxena
निर्मित तिथि 19th Apr 2017
  • गुलाब संदेश, How to make गुलाब संदेश
गुलाब संदेशBishakha Kumari Saxena
  • गुलाब संदेश | Gulab sandesh in Hindi (2 लाइक्स )

  • 0 रिव्यूज़
    रेट करें
  • Bishakha Kumari Saxena
    निर्मित तिथि 19th Apr 2017

About Gulab sandesh in hindi

बहुत ही जल्दी बनने वाला मीठा।

सोचिये अगर आप घर पर गुलाब संदेश परोसेंगे तो सभी कितने अचंभित हो जाएंगे। यूं तो सभी गुलाब संदेश को रेस्टोरेंट में खाना पसंद करते हैं पर अगर यह घर पर बनी हो तो फिर इसकी बात ही कुछ और होती है। गुलाब संदेश की ख़ास बात यह है की इसे बनाते वक़्त जो सुगंध आती है वह बहुत ही मनमोहक होती है और इसे देखने के बाद भूख और भी ज्यादा बढ़ जाती है। Bishakha Kumari Saxena की ये रेसिपी की तैयारी में 10 मिनट का वक़्त लगता है और इसे अच्छी तरह से पकाने में 5 मिनट का वक़्त लगता है। अगर कभी मेहमान घर पे अचानक से आ जाये तो आप खाने में गुलाब संदेश बना सकते हैं और उन्हें खुश कर सकते हैं। बेटर बटर के गुलाब संदेश इन हिंदी में आपको इसे बनाने की विधि हिंदी में मिलेगी जिसकी सहायता से आप इसे बड़े ही आसानी से बना सकते हैं। तो जब भी आपको कुछ स्पेशल खाने या बनाने का मन करे तो गुलाब संदेश को ट्राई करना ना भूलें।

  • तैयारी का समय10मिनट
  • पकाने का समय5मिनट
  • पर्याप्त2लोग
गुलाब संदेश रेसिपी

गुलाब संदेश बनाने की सामग्री ( Gulab sandesh Banane Ki Samagri Hindi Me )

  • १ लीटर दूध
  • १ कप गुलाब की पंखुड़ी
  • २ बड़ा चम्मच बारीक पिसी चीनी
  • १ छोटा चम्मच गुलाब एसेंस
  • २ बड़ा चम्मच विनेगर

गुलाब संदेश बनाने की विधि ( Gulab sandesh Banane Ki Vidhi Hindi Me )

  1. सबसे पहले दूध को उबाले।
  2. उसके बाद उसमें विनेगर डालकर फाड़ेंगे।
  3. फिर एक मलमल के कपड़े में फटे दूध को डालेंगे।
  4. फिर उसे पानी से धो कर, मलमल के कपड़े में बांधकर 5 मिनट के लिए लटका कर रख दें।
  5. अब उस छेने को एक बर्तन में रखकर हाथों से 2 मिनट के लिये मसलेंगे।
  6. ताकि छेना एकदम मुलायम हो जाये।
  7. अब गुलाब की पंखुड़ियों को बारीक काट लें।
  8. अब छेना में पिसी चीनी, गुलाब की पंखुड़ियाँ, गुलाब एसेंस को मिला लेंगें।
  9. अब छेना को संदेश का आकार देंगे और गुलाब की पंखुड़ियों से सजा कर पेश करेंगे।

Reviews for Gulab sandesh in hindi (0)