काठ्यावाडी सब्जी ताहरी | Kathyavadi Sabji Tahri in Hindi

1.0 from 1 रिव्यू
रेट करें
द्वारा Neelam Barot
निर्मित तिथि 12th May 2017
  • काठ्यावाडी सब्जी ताहरी, How to make काठ्यावाडी सब्जी ताहरी
काठ्यावाडी सब्जी ताहरीNeelam Barot
  • काठ्यावाडी सब्जी ताहरी | Kathyavadi Sabji Tahri in Hindi (5 लाइक्स )

  • 1 रिव्यू
    रेट करें
  • Neelam Barot
    निर्मित तिथि 12th May 2017

About Kathyavadi Sabji Tahri in hindi

ये एक तीखी और चटपटी गुजराती डिश है ये फुलवड़ी और दही से बनने वाली सब्जी है आप इसमें रतलामी सेव का भी इस्तमाल कर सकते हैं।

काठ्यावाडी सब्जी ताहरी बहुत ही स्वादिष्ट और लाजवाब व्यंजन है जो पुरे भारत में बहुत ही लोकप्रिय है। काठ्यावाडी सब्जी ताहरी की रेसिपी Neelam Barot के द्वारा लिखी गयी है जिसे आप 3 लोगों को परोस सकते हैं। इस काठ्यावाडी सब्जी ताहरी की ख़ास बात यह है की इसे बनाते वक्त जो सुगंध आती है वह बहुत ही मनमोहक होती है और इसे देखने के बाद आप खुद को इसे खाने से नहीं रोक पाएंगे। जिसकी तैयारी में केवल 5 मिनट मिनट का समय लगता है और पकाने में 15 मिनट का समय लगता है। बेटर बटर के काठ्यावाडी सब्जी ताहरी इन हिंदी में आपको काठ्यावाडी सब्जी ताहरी बनाने की विधि हिंदी में मिलेगी जिसकी सहायता से आप बड़े ही आसानी से घर पर रेस्टोरेंट स्टाइल काठ्यावाडी सब्जी ताहरी बना सकते हैं।

  • तैयारी का समय5मिनट
  • पकाने का समय15मिनट
  • पर्याप्त3लोग
काठ्यावाडी सब्जी ताहरी रेसिपी

काठ्यावाडी सब्जी ताहरी बनाने की सामग्री ( Kathyavadi Sabji Tahri Banane Ki Samagri Hindi Me )

  • रेगुलर गांठिया १ कप
  • फुलवड़ी १कप
  • दही २ कप
  • कश्मीरी लाल मिर्च पाउडर १ छोटी चम्मच
  • हल्दी पाउडर १/२ छोटी चम्मच
  • धनिया जीरा पाउडर २ बड़े चम्मच
  • नमक स्वाद के अनुरूप
  • गरम मसाला १ छोटी चम्मच
  • खड़ा धनिया भूना और पिसा हुवा १/२ छोटी चम्मच
  • जीरा १/२ छोटी चम्मच
  • हींग चुटकी भर
  • लहसुन की पेस्ट( लहसुन , लाल मिर्च और नमक ) १ छोटी चम्मच
  • कटा हुआ धनिया पत्ती २ बड़े चम्मच
  • तेल २ बडे चम्मच
  • घी १ बड़ा चम्मच

काठ्यावाडी सब्जी ताहरी बनाने की विधि ( Kathyavadi Sabji Tahri Banane Ki Vidhi Hindi Me )

  1. एक कटोरा ले उसमे दही और सारे सूखे मसाले डाले और फेंट लें।
  2. अब उसमे १-२ कप जीतना पानी डालें और लहसुन की चटनी डाल के मिला ले।
  3. एक कड़ाई ले उसमे तेल और घी डाले और फिर गेस पर गर्म करे।
  4. जब तेल गर्म हो जाए तो उसमे जीरा और हींग डाले।
  5. अब उसमे दही वाला मिश्रन डाले और ५-७ मिनीट के लिए चलाते रहे और ध्यान रखें के दही फटे नही।
  6. अब उसमे फुलवड़ी और गांठिया डाले और धनिया पत्ती दाल दे।
  7. ५ मिनिट के बाद गेस बंध करदे और गरमा गरम परोसें।
मेरी टिप: दही फटे नहीं इसका ध्यान रखे।

Reviews for Kathyavadi Sabji Tahri in hindi (1)

Chahna Chhetri2 months ago
Gathiya or ye fulwari kya hoti h
Reply