5 खाने की चीज़ें जो आर्थराइटिस के दर्द को कम कर सकते हैं

Spread the love

पहले के जमाने में अर्थरिटिस यानी की जोड़ो का दर्द बुजुर्गो में पाया जाता था लेकिन गलत खान-पान और रहन-सहन की वजह से अब युवाओं में भी इसका असर देखा जा रहा है | लेकिन बहुत से खाद्य पदार्थ हैं जो अर्थरिटिस से जुड़े दर्द, सूजन और जलन को कम कर सकते हैं | कुछ सर्वेक्षणों के अनुसार २४% रह्युमेटोइड अर्थरिटिस के रोगियों पर उनके खान-पान का असर दिखा है |

खाने की ऐसी बहुत सी चीज़े हैं जिनका सेवन करने से जोड़ो के चुभनशील दर्द से आराम मिल सकता हैं | आइये जानते हैं ऐसे ही 5 खाद्य पदार्थों के बारे में –

1.अखरोट

 

 

अखरोट में कमाल के पोषक तत्त्व होते जैसे कि ओमेगा-३ फैटी एसिड्स जो कि आथ्रइटिस से होने वाली सूजन को कम करता हैं | और एक अध्यन के मुताबिक ओलिव आयल लेने वाले अर्थरिटिस रोगियों के मुकाबले ALA टाइप ओमेगा ३ एसिड्स (अखरोट में मौजूद ) लेने वाले अर्थरिटिस रोगियों ने कम दर्द महसूस किया है|

 

2.पालक

 

 

पालक में भारी मात्रा में एंटीओक्सीडेट्स और विटामिन्स होते हैं जो अर्थरिटिस की सूजन से राहत देते हैं | पालक में पाया जाने वाला कैम्प्फेरोल एंटीऑक्सीडेंट,रह्युमेटोइड आथ्रइटिस से जुड़ी सूजन को पैदा करने वाले एजेंट्स को ख़त्म करता है |

 

3.लहसुन

 

 

लहसुन में एक चमत्कारी कंपाउंड डाइलिल डाइसल्फ़ाइड होता हैं जो अर्थरिटिस के साथ-साथ बहुत सी बीमारियों को दूर करता है | डाइलिल डाइसल्फ़ाइड,उन एंजाइमों को उत्पन्न होने से रोकता है जो कि पहले से हुई लचीली हड्डियों को और नुक्सान पहुंचाते हैं |

 

4.ब्रोकोली

 

 

हम सब जानते हैं कि ब्रोकोली पोषक तत्वों से भरा हुआ है जो कि हमारे स्वास्थ्य के लिए बहुत लाभकारी है | यहाँ तक कि ब्रोकोली में पाए जाने वाला सल्फोराफेन कंपाउंड,रह्युमेटोइड अर्थरिटिस में पैदा होने वाली कोशिकाओं को रोकता है और उससे होने वाली सूजन को कम करता है |

 

5.फैटी फिश

 

 

फैटी फिश जैसे कि ट्राउट,मैकेरल और सैल्मन में ओमेगा ३ फैटी एसिड भरपूर मात्रा में होता है जो शरीर में होने वाली सूजन को कम कर सकता है | ओमेगा ३ फैटी एसिड को अपनी डाइट में लेने से जोड़ो का दर्द और सुबह- सुबह होने वाली अकड़न बहुत हद्द तक कम होती है | सिर्फ यही नहीं बहुत से अध्यनों की माने तो ओमेगा ३ फैटी एसिड्स ओस्टियोआर्थराइटिस के दौरान होने वाली सूजन को भी कम करता है |

चित्र स्त्रोत- food to live, fresh option organic delivery, serving joy, pexels, the Indian truth

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *