Search

Home / Top Cooking Recipes in Hindi / Janmashtami Prasad Recipes: जन्माष्टमी पर श्री कृष्ण को भोग लगाने की 10 रेसिपी

Janmashtami Prasad Recipes in Hindi

Janmashtami Prasad Recipes: जन्माष्टमी पर श्री कृष्ण को भोग लगाने की 10 रेसिपी

Himanshu Pareek | अगस्त 27, 2021

Janmashtami Prasad Recipes in Hindi: श्री कृष्ण जन्माष्टमी हिंदुओं के प्रमुख त्यौहारों में से एक है। प्रत्येक वर्ष भाद्रपद माह के कृष्ण पक्ष की अष्टमी को यह त्यौहार मनाया जाता है। मान्यता है कि इसी दिन भगवान विष्णु के अवतार भगवान श्री कृष्ण ने कंस का विनाश करने व धरा को पापों से मुक्ति दिलाने के लिए पृथ्वी पर अवतार लिया था। इस विशेष दिन पर श्रद्धालु श्री कृष्ण की कृपा प्राप्त करने के लिए उपवास रखते हैं तथा विशेष प्रकार के व्यंजन बनाकर उन्हें भोग लगाते हैं। इस अवसर पर भोग की पंजरी तो श्री कृष्ण जन्माष्टमी प्रसाद का अभिन्न अंग है ही, पर उसके अलावा यदि आप असमंजस में हैं कि जन्माष्टमी पर कौनसे पकवान बनाये जाएं, तो बने रहिये हमारे साथ। इस आर्टिकल में हम जानेंगे जन्माष्टमी पकवान बनाने की विधि। आइये जानते हैं विस्तार से।

 

जन्माष्टमी व्रत में क्या खाएं- What to Eat in Janmashtami Fast

जन्माष्टमी 2021 अगस्त माह की 30 तारीख को मनाई जायेगी, जिसकी तैयारियां शुरू हो चुकी हैं। हिंदू धर्म के अनुसार जन्माष्टमी के व्रत का विशेष महत्व है, और इसलिए इसे व्रतराज कहा जाता है। जन्माष्टमी का व्रत करने वाले श्रद्धालु पूरे दिन बिना अन्न ग्रहण किये रहते हैं एवं मध्य रात्रि में श्री कृष्ण के जन्म के बाद ही प्रसाद ग्रहण करके फलाहार करते हैं। जन्माष्टमी के दिन श्री कृष्ण को भोग लगाने के लिए पंजरी समेत विभिन्न प्रकार के विशेष फलाहारी पकवान बनाए जाते हैं, जिनका सेवन व्रत में भी किया जा सकता है। इस आर्टिकल में आगे हम जानेंगे जन्माष्टमी के दिन बनाये जा सकने वाले विशेष जन्माष्टमी पकवान (Krishna Janmashtami Recipes) बनाने की विधि।

1. धनिये की पंजीरी

Panjiri

श्री कृष्ण जन्माष्टमी के अवसर पर बनाने के लिए धनिया की पंजीरी सर्वश्रेष्ठ विकल्प है क्योंकि इसी का प्रसाद मुख्य रूप से श्रीकृष्ण को चढ़ाया जाता है। धनिया की पंजीरी को बनाने के लिए पिसे व सिके हुए धनिये, घी और चीनी व ड्राई फ्रूट्स की आवश्यकता होती है। धनिया की पंजीरी श्री कृष्ण जन्माष्टमी प्रसाद का मुख्य भाग है और इसे दही व केले के साथ खाया जाता है।

2. समा के चावल की खीर

Kheer

खीर हर भारतीय त्योहार पर मुख्य रूप से बनाई जाती है। क्योंकि श्री कृष्ण जन्माष्टमी पर फलाहार करने का प्रावधान है, ऐसे में इस दिन आप सादा चावल की खीर ना बनाकर समा के चावल की खीर बना सकते हैं। समा के चावल की खीर को सामान्य खीर की तरह ही दूध में चावल उबालकर और फिर उसमें चीनी व अन्य ड्राई फ्रूट्स डालकर बनाया जाता है। इसे आप फलाहार में भी का खा सकते हैं और भगवान को भोग में भी अर्पित कर सकते हैं।

3. पंचामृत

Guru Purnima Panchamrit

पंचामृत हिंदू धर्म ग्रंथों के अनुसार हर त्यौहार पर मुख्य रूप से बनाया जाने वाला पवित्र पेय पदार्थ है। यह धर्म अनुसार पवित्र माने जाने वाले कुछ चुनिंदा खाद्य पदार्थों जैसे शहद, दही, घी, चीनी और दूध के मिश्रण से बनाया जाता है। इसे आप भगवान को भी अर्पित कर सकते हैं एवं फलाहार में भी ले सकते हैं। स्वाद बढ़ाने के लिए पंचामृत में किशमिश, काजू, बादाम व विभिन्न फल डाले जा सकते हैं।

4. माखन मिश्री

Makhan Mishri

श्री कृष्ण जन्माष्टमी के अवसर पर आप भगवान श्री कृष्ण की पसंदीदा मिठाई माखन मिश्री बना सकते हैं और इसका प्रसाद ग्रहण कर सकते हैं। इसे बनाने के लिए आपको माखन में मिश्री को अच्छे से मिक्स करना होता है। माखन मिश्री बनने के बाद इसमें तुलसी पत्ती डालकर ईश्वर को अर्पित कर सकते हैं तथा फलाहार में ग्रहण कर सकते हैं।

5. मावे के लड्डू (Janmashtami Sweets)

Mava Laddu

लड्डू भारतीय समाज में हर शुभ अवसर पर बनाई जाने वाली एक प्रचलित मिठाई है। इसे आप विभिन्न तरीकों से बना सकते हैं। क्योंकि जन्माष्टमी पर फलाहार करना उचित माना जाता है, ऐसे में मावे व नारियल के लड्डू जन्माष्टमी पर बनाने के लिए परफेक्ट रेसिपी है। इसे बनाने के लिए आपको ताजा मावे और कसे हुए नारियल में चीनी मिलाकर लड्डू बनाने होते हैं। इसमें ड्राई फ्रूट्स भी डाले जा सकते हैं।

6. साबूदाने की खिचड़ी

Sabudana Khichdli

जन्माष्टमी पर फलाहार के लिए आप साबूदाने की खिचड़ी बना सकते हैं। साबूदाने की खिचड़ी बनाने के लिए आपको भीगे साबूदाने को टमाटर, आलू, काली मिर्च, व सेंधा नमक के साथ तेल में अच्छे से पकाकर चटपटा बनाना होता है। इसे खाने के बाद आप की दिनभर की थकान उतर जाती है तथा उपवास के बाद पेट भी आसानी से भर जाता है। साबूदाने खिचड़ी रेसिपी आप यहां से देख सकते हैं।

7. साबूदाना वड़ा

Sabudana Vada Feature

अगर आपको साबूदाने की खिचड़ी पसंद नहीं है तो जन्माष्टमी के अवसर पर आप साउथ इंडियन साबूदाना वड़ा भी ट्राई कर सकते हैं। साबूदाना वड़ा बनाने के लिए आपको भीगे हुए साबूदाने को मूंगफली, सेंधा नमक, काली मिर्च, हरा धनिया और हरी मिर्च के साथ एक घोल बनाकर तेल में डीप फ्राई करना होता है। इसे आप मिर्च अथवा नारियल की चटनी के साथ खा सकते हैं।

8. कुट्टू की पूरी

Kuttu Puri

जन्माष्टमी के फलाहार तक आपको पूरे दिन भूखा रहना होता है, ऐसे में भोजन के दौरान पूर्ण पोषण प्राप्त करने के लिए कुट्टू की पूरी एक अच्छा विकल्प है। इसे बनाने के लिए आपको कुट्टू के आटे में उबला हुआ आलू मिलाना होता है और फिर इन पूरियों को तेल में डीप फ्राई करना होता है। कुट्टू की पूरी टेस्टी और हेल्दी दोनों होती है, एवं इसे आप मिर्च की चटनी अथवा आलू की सब्जी के साथ खा सकते हैं।

9. व्रत वाले आलू

vrat ke aloo

व्रत वाले आलू जन्माष्टमी के उपवास के दौरान खाने के लिए एक चटपटा व्यंजन है जिसका स्वाद गजब का होता है। इसे बनाने के लिए आलू को उबालकर उसमें अच्छे से सेंधा नमक व काली मिर्च मिक्स कर दीजिए। आप चाहे तो मसाला डालने से पहले आलुओं को क्रिस्पी बनाने के लिए हल्का फ्राई भी कर सकते हैं। इसके बाद आलुओं पर नींबू का रस छिड़ककर आप इसे दही के साथ खा सकते हैं। इस तरह जन्माष्टमी व्रत के लिए स्वादिष्ट आलू चाट तैयार हो जाती है।

10. आलू का रायता

Aloo Ka Raita

जन्माष्टमी के अवसर पर आलू का रायता आपके खाने में एक अच्छा विकल्प हो सकता है। आलू का रायता बनाने के लिए आपको आलू उबालकर उसे काटना होता है व फिर छाछ में डालना होता है। इस छाछ में सेंधा नमक व काली मिर्च मिलाकर आप स्वादिष्ट आलू का रायता तैयार कर सकते हैं। यह पूरियाँ अथवा पकौड़ी के साथ खाने के लिए श्रेष्ठ विकल्प है।

 

श्री कृष्ण जन्माष्टमी 30 अगस्त को है। इस आर्टिकल Janmashtami Prasad Recipes in Hindi में हमने आपसे भगवान श्री कृष्ण को भोग लगाने योग्य व व्रत में फलाहार के दौरान खाने के लिए स्वादिष्ट रेसिपी शेयर की। कैसा लगा आपको ये आर्टिकल, हमें बताइये, और इसे शेयर कीजिए अपने दोस्तों और परिवार जनों के साथ। ऐसी ही अनमोल रेसिपी और नई-नई जानकारी के लिए बने रहिए BetterButter के साथ।

 

Image Source: WikiMedia

Disclaimer: BetterButter इस ब्लॉग में प्रकाशित किसी भी चित्र अथवा वीडियो का आधिकारिक दावा नहीं करता है। इस ब्लॉग में सम्मिलित दृश्य-श्रव्य सामग्री पर मूल रचनाकार के अधिकार का हम पूरा सम्मान करते है तथा प्रकाशित रचना का उचित श्रेय रचनाकार को देने का पूर्ण प्रयास करते है। अगर इस ब्लॉग में सम्मिलित किसी भी चित्र या वीडियो पर आपका कॉपीराइट है और आप उसे BetterButter पर नहीं देखना चाहते तो हमसे संपर्क करें। उक्त सामग्री को ब्लॉग से हटा दिया जायेगा। हम किसी भी सामग्री के लेखक, फोटोग्राफर एवं रचनाकार को उसका पूरा श्रेय देने में विश्वास करते है।

Himanshu Pareek

हिमांशु एक लेखक हैं और उन्हें खान-पान, आयुर्वेद, अध्यात्म एवं राजनीति से सम्बंधित विषयों पर लिखने का अनुभव है। इसके अलावा हिमांशु को घूमना, कविताएँ लिखना-पढ़ना और क्रिकेट देखना व खेलना पसंद है।

COMMENTS (0)

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *