पेट फूलने (Bloating) से छुटकारा पाने के घरेलु उपचार

Spread the love

कई बार ऐसा होता है कि आप अपने पेट में भारीपन सा महसूस करते है जैसे खाना खाने के बाद पेट का गुब्बारे की तरह फूल जाना | इसे ब्लोटिंग कहते है | ऐसा होने के कई कारण हो सकते है जैसे कब्ज़, असंतुलित भोजन, कार्बोनेटेड ड्रिंक्स, तनाव, जल्दी-जल्दी खाना या फिर ज्यादा खाना खाना | इसमें कोई घबराने की बात नहीं है बस कुछ घरेलू नुस्खों से आप इर्रिटेबल बॉउल सिड्रोम से आराम पा सकते है-

1) पेपरमिंट का इस्तेमाल करें

पेपरमिंट में मौजूद मेंथोल आयल, पाचन तंत्र को रिलैक्स करता है | इसमें पाए जाने वाले एन्टीस्पैस्मोडिक गुण ब्लोटिंग के लिए सर्वश्रेष्ठ माने जाते हैं | ये मांसपेशियों की ऐंठन (क्रैम्प्स) को भी दूर करता हैं | ये गॉलब्लेडर और गैस्ट्रोइंटेस्टिनल ट्रैक्ट (जठरांत्र पथ ) को नियंत्रित करके पेट फूलने से बचाता हैं | एक गर्म पानी की कटोरी लेकर उसमे ताज़ी पेपरमिंट पत्तियाँ डालें | 5 से 10 मिनट तक इसे ऐसे ही रहने दें | अब इसे छानकर इसका पानी पी लें | ऐसा रोज सुबह और शाम करें |

 

2) संतरा

जब भी आपको पेट में भारीपन महसूस हो तो खूब सारे संतरे खाएं | संतरो में भरपूर मात्रा में फाइबर होता हैं और ये शरीर में पानी भरने से बचाता हैं | तो शरीर में pH का स्तर कम करने के लिए 1 या 2 संतरे रोज खाएं या फिर आप संतरो का जूस भी पी सकते हैं | ऐसा करने से पाचन तंत्र को भी प्रोत्साहन मिलता हैं |

 

3) अदरक

अदरक में पाए जाने वाला कामिनटिव कंपाउंड शरीर से गैस निकालता हैं और पाचन तंत्र ठीक रखता हैं | ये आपकी मांसपेशियों को रिलैक्स करता हैं और साथ ही साथ गैस और ब्लोटिंग जैसी समस्याओं का समाधान करता हैं | 1 कप पानी में 1 अधरक का टुकड़ा डालें अब इसे अच्छे से उबालें | पेट फूलने से बचने के लिए इसे भोजन करने से पहले और बाद में पियें | यहाँ तक कि आप भोजन में भी अधरक का इस्तेमाल कर सकते हैं |

 

4)प्रोबिओटिक का सेवन करें

प्रोबिओटिक अच्छे बैक्टीरिया से भरपूर होते हैं जो पाचन तंत्र की देख रेख करते हैं | साथ-साथ  पेट खराब होना, पेट फूलना, कब्ज़ या फिर दस्त जैसी समस्याओं से राहत पहुंचाते हैं | जब भी आपको पेट फूलने जैसा लगे तो एक कटोरी दही खाएं | दही में मौजूद एन्ज़ाइम्स पाचन में सहायक होते हैं |

 

5)नारियल के तेल का प्रयोग करें

नारियल के तेल में होने वाली नमी की वजह से इसका सेवन करने से आंतो को आराम मिलता हैं और पेट नहीं फूलता | इसकी एंटी-इंफ्लेमेटरी गुणों के कारण इसे पाचन शक्ति बढ़ाने में सहायक माना जाता हैं |

 

6)खूब सारा पानी पियें

ध्यान रहे कई बार पानी की कमी होने से भी कई बीमारियाँ आपका पीछा नहीं छोड़ती | जिसमे से पेट फूलना एक समस्या हैं | पानी पीने से आपका शरीर साफ़ रहता हैं और सभी विषैले पदार्थों का निकास होता हैं | इसलिए पानी का कोई विकल्प नहीं और खूब सारा पानी पीना जरूरी हैं |

 

7) सैर करें

गैस या पेट फूलने की वजह से जब भी आपको असहजता मह्सूस हो तो एक जगह ना बैठे रहे | थोड़ा सी सैर करें ताकि पेट की मांसपेशियों को थोड़ा आराम मिले | खाने के बाद 10 से 15 मिनट की रनिंग, जॉगिंग या फिर एक वॉक भी काम बना सकती हैं | अपनी ऐठी हुई मांसपेशियों को रिलैक्स करने का इससे अच्छा तरीका नहीं  हैं |

 

8)पेट की मालिश करें

ब्लोटिंग की प्रॉब्लम को खतम करने के लिए पेट की मालिश भी एक असरदार तरीका हैं | अपनी नाभि के थोड़ा ऊपर, अपनी उंगलियों से पहले क्लॉकवाइस फिर एंटी-क्लॉकवाइस,  5 से 10 मिनट तक मालिश करें | इससे आपको बेहद आराम मिलेगा | अगर आप ऐसा करने में सफल हो जाते हैं तो मुँह की लार में बढ़त होगी |

चित्र स्त्रोत: Pixabay, pixino,flickr, wikipedia commons

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *