Home / Recipes / Dhakai paratha ( saikadon parto wala bangali paratha)

Photo of Dhakai paratha ( saikadon parto wala bangali paratha) by Archana Srivastav at BetterButter
407
5
0.0(0)
0

Dhakai paratha ( saikadon parto wala bangali paratha)

Oct-13-2017
Archana Srivastav
3000 minutes
Prep Time
15 minutes
Cook Time
4 People
Serves
Read Instructions Save For Later

Recipe Tags

  • Veg
  • Hard
  • Festive
  • West Bengal
  • Frying
  • Main Dish
  • Healthy

Ingredients Serving: 4

  1. 1 कप मैदा
  2. 2चम्मच तेल
  3. 1/2 चम्मच बेकिंग पाउडर
  4. स्वादानुसार नमक
  5. 1/4कप शुद्ध घी रोटी की परतों पर लगाने के लिए
  6. 1/2 कप मैदा रोटी की परतो पर लगाने के लिए
  7. रिफाइंड तेल तलने के लिए आवश्यकतानुसार
  8. 1/4 कप फ्रिज का ठंडा पानी आटा सानने के लिए

Instructions

  1. एक कटोरी मैदे में बेकिंग पाउडर और नमक को मिला लेंगे
  2. मैदे को छान लेंगे
  3. मैदे में तेल मिलाकर क्रंब्स जैसा मिक्सचर बना लेंगे
  4. फ्रिज के ठंडे पानी की सहायता से मैदे को पूरी जैसा कड़ा साम लेंगे
  5. आटे को सांन कर 10 मिनट के लिए कपड़े से ढक कर रख देंगे
  6. इस आटे से चार बराबर लोइया काट लीजिए
  7. एक लोई को लेकर चकले पर बेलन की सहायता से रोटी के नाप का बेल लेंगे
  8. इस रोटी पर ब्रश की सहायता से अच्छी तरह भी लगा लेंगे
  9. घी लगी हुई रोटी पर करीब 2 चम्मच मैदा पूरी रोटी पर लगा देंगे
  10. अब रोटी के बीचो-बीच से किनारे तक चाकू की सहायता से एक कट लगाएंगे
  11. जहां से कट लगाया है वहां से रोटी को रोल करते जाएंगे और एक कोण का आकार बना लेंगे
  12. तैयार कोन का नुकीला हिस्सा चाकू की सहायता से थोड़ा काट देंगे
  13. और ऊपर वाले हिस्से को अंदर दबा दबा कर बंद कर देंगे
  14. कोन के नीचे वाले कटे हुए भाग को तेल की कटोरी में डुबाकर उल्टा करके रख देंगे
  15. इसी प्रकार सभी कौन तैयार कर लेंगे और एक बर्तन में रख लेंगे
  16. सभी तैयार कोन को एक कपड़े से ढक कर 30 मिनट के लिए छोड़ देंगे
  17. 30 मिनट के बाद कोन को हल्के हाथों से दबाकर पेड़े जैसा बना लेंगे
  18. इस पेड़े को बड़ी पूरी के आकार का बेल लेंगे
  19. तेल गरम करके मध्यम आंच पर पूड़ी को तेल में डालेंगे और कलछुल की सहायता से पूरी के ऊपर गरम तेल डालते जाएंगे बार-बार तेल डालने से पूरी की सभी तहें खुलने लगेगी और पूरी फूलने लगेगी ढ़काई पराठा की यही विशेषता है
  20. ढ़काई पराठे को तेल में से छानकर निकाल ले तथा टिशू पेपर पर रखकर अतिरिक्त तेल सूख जाने दें
  21. ढ़काई पराठे तेल में तले होने के कारण बहुत ज्यादा गर्म होते हैं अतः इन्हें कभी भी गरम-गरम ना परोसे
  22. हल्के ठंडे होने पर भी यह बहुत कुरकुरे होते हैं और ज्यादा मजेदार लगते हैं
  23. यह पराठे ज्यादातर चने की दाल या आलू मटर की सब्जी के साथ पसंद किए जाते हैं
  24. लीजिए तैयार है ढ़काई पराठा आलू मटर की चटपटी सब्जी के साथ

Reviews (0)  

How would you rate this recipe? Please add a star rating before submitting your review.

Submit Review

Similar Recipes

A password link has been sent to your mail. Please check your mail.
Close
SHARE