होम / रेसपीज़ / मुखवास

Photo of Mukhvaas by yamini Jain at BetterButter
597
0
0.0(0)
0

मुखवास

Dec-23-2018
yamini Jain
5 मिनट
तैयारी का समय
15 मिनट
खाना बनाने का समय
10 लोग
पर्याप्त
निर्देश पढ़ें बाद के लिए सेव करे

मुखवास रेसपी के बारे में

ये मुखवास उन सभी माँ के लिए जिन्होंने अभी अभी या कुछ ही महीने पहले बच्चों को जन्म दिया हो। माँ को बच्चे को जन्म देने के बाद कुछ दवाइयां खिलाते है घर पर बनाकर जैसे अजवायन,सुंठ इत्यादि जिसे की जच्चा के मुंह का स्वाद कुछ फीका फीका से हो जाता हैं, और कुछ चटपटा खाने को दिलकर्ता हैं, तो यही सोचकर आज मैं ये मुखवास की रेसिपी लायी हु। इस रेसिपी में आपको सभी चीज़ो के गुण भी बताऊँगी की क्या चीज़ खाने से क्या गुण होगा और माँ को बच्चे के लिए दूध भी ज्यादा मात्रा में आएगा।

रेसपी टैग

  • भारतीय
  • हेल्थी

सामग्री सर्विंग: 10

  1. 1/4 कप सौंफ
  2. 1/4 कप तिल
  3. 1/4 कप अलसी
  4. 1/4 कप सुवा
  5. 1/4 कप तरबूज के बीज
  6. 1/4 कप धाना दाल
  7. 1 बड़ा चम्मच अजवायन
  8. 1/2 कप नारियल का बुरादा
  9. थोडासा काला नमक
  10. चुटकी भर हल्दी
  11. मिक्स मीठी सौंफ(ऑप्शनल)

निर्देश

  1. एक कड़ाई में अलसी,सौंफ, धाना दाल, अजवायन,तरबूज के बीज,तिल, सुवा सबको एक साथ मिला ले
  2. हल्दी को 1/4 छोटी चम्मच पानी मे घोलकर इसमे मिला दे
  3. गैस चालू करके इन्हें लगातार चम्मच से चलाते हुए 5 मिनट धीमी आंच पर सेक ले या करारी होने तक सेक ले
  4. जब तिड़कने कि आवाज आने लगे तब गैस बंद कर दे
  5. और इसमें काला नमक और नारियल का बुरादा मिलाये और 2 मिनट चम्मच से मिलाते रहे क्योंकि कड़ाई गरम रहती है और नारियल भी हल्का सा सिक जाएगा
  6. 2 मिनट के बाद इसे प्लेट में निकाल कर ठंडा करें
  7. पूरी तरह से ठंडा होने पर इसमें बाजार की मीठी सौंफ मिला ले,इसे मीठा और नमकीन दोनो ही स्वाद मिल जाएंगे
  8. इसे एयरटाइट डिब्बे में भर कर रखे कहना खाने के बाद जरूर खाये
  9. सौंफ के गुण- सौंफ खाने से सीने में जलन नही होती हैं, और मुंह में बदबू भी नही आती हैं।
  10. तिल के गुण- तिल का उपयोग ठंडी में ज्यादा करते हैं, क्योंकि ये गरम करती हैं, और बच्चा होने के बाद जच्चा को भी गर्म चीज़े ही दी जाती हैं ताकि सारी पेट की गंदगी निकल जाए,तिल खाने से दूध भी गाढ़ा आता हैं।
  11. अलसी के गुण- अलसी भी गर्म करती हैं किसी को बच्चा ऑपरेशन से होता हैं, और ठंड में अक्सर खाँसी की शिकायत रहती हैं और ऐसे में खाँसी होने पर टांके में दर्द होता है,तो अलसी खाने से खांसी ठीक हो जाती हैं।
  12. अजवायन के गुण- अजवायन खाने से जच्चा और बच्चा दोनो को ही गैस नही बनती हैं, और दूध भी अच्छी मात्रा में और गाढ़ा भी आता हैं, बच्चे को भी दूध पचने में आसानी होती हैं, और पेट साफ भी होता हैं।
  13. सुवा के गुण- सुवा खाने से अपच की शिकायत, कब्जी, अजीर्ण, उल्टी जैसी शिकायत से छुटकारा मिलता हैं।
  14. नारियल के गुण- सूखा नारियल जिसे गोला या गट भी कहते हैं, ये बाज़ार में कद्दूकस(बुरादा) किया हुआ भी मिलता हैं, याप घर भी इसे मिक्सी में हाथ से कद्दूकस कर सकते हैं, नारियल खाने से माँ को बहोत ताकत मिलती हैं, और दूध की मात्रा इतनी बढ़ जाती हैं कि आप सोच भी नही सकते हैं, अगर बच्चे को 6 महीने तक बाजार का दूध नही पिलाना हैं तो, आप एक दिन का 1/2 नारियल का बुरादा में थोडासा गुड़ मिलाकर खाले तो आपको दूध गाढ़ा और काफी अच्छी मात्रा में आएगा, ये मे मेरी आप बीती बता रही हु, मैंने भी खाया था,इसलिए पूरी गेरंटी के साथ आप सबके साथ मेरा अनुभव बता रही हूं। एक बात का ध्यान रखना की नारियल या मुखवास खाने के बाद 30 मिनट तक पानी न पिएं वरना खाँसी हो सकती हैं

रीव्यूज़ (0)  

आप इस रेसिपी को कैसे रेट करेंगे? कृपया अपनी रिव्यू सबमिट करने से पहले एक स्टार रेटिंग डाले।

रिव्यु सबमिट करें

इसी तरह की रेसिपीज़

A password link has been sent to your mail. Please check your mail.
Close
शेयर