घर की सुख-समृद्धि के लिए वास्तु टिप्स

Spread the love

भारतीय पौराणिक कथाओं के अनुसार, भगवान कुबेर धन के देवता हैं और आपके घर में वास्तु का सही उपयोग ही धन और समृद्धि के द्वार खोल सकता है। वास्तु या वास्तुकला का विज्ञान एक विशिष्ट उद्देश्य की सेवा के लिए हर दिशा को दर्शाता है। ज्योतिष एक्सपर्ट और वास्तु एक्सपर्ट के मुताबिक, आपके घर के सही वास्तु से भगवान् खुश होते हैं और यह आपके लिए एक वरदान भी हो सकता है। वास्तु से भगवान् खुश होंगे या नहीं ये तो एक रहस्य है पर इसे अपने घर में शामिल करने से घर में सुख और समृद्धि ज़रूर आती है।

यहां, हम कुछ वास्तु टिप्स बताने जा रहे हैं जिन्हें आप अपने घर में सफलता के द्वार खोलने के लिए उपयोग कर सकते हैं-

 

1.आपके घर का प्रवेश द्वार

आपके घर के मुख्य द्वार को वास्तु के अनुसार ही होना चाहिए, क्योंकि इससे आपके घर में खुशी और समृद्धि आती है। मुख्य द्वार की दिशा विशेष रूप से पूर्व या उत्तर-पूर्व में होनी चाहिए। घर के प्रवेश द्वार को किसी भी प्रकार की बाधा से मुक्त रखना बहुत ही आवश्यक है। इसके अलावा, गेट में अच्छी रौशनी होनी चाहिए और प्रवेश द्वार पर कभी भी चप्पलें नहीं रखी होनी चाहिए।

 

2.सात घोड़ों वाली पेंटिंग

दौड़ते हुए घोड़ों का वास्तु में एक विशेष स्थान है और वे शक्ति और भाग्य के प्रतीक हैं। आपके घर में सात घोड़ों की पेंटिंग आपके जीवन में प्रगति, ऊर्जा और सफलता लाती है। इस तस्वीर को अपने घर की दक्षिण की दीवार पर लगाने की सलाह दी जाती है।

नोट – इस तस्वीर को लगाने से पहले, ध्यान रखें कि घोड़ों को क्रोध या उदासी व्यक्त नहीं करना चाहिए बल्कि उन्हें अपनी अभिव्यक्तियों में खुशी व्यक्त करनी चाहिए। दूसरी बात यह है कि घोड़ों को एक ही दिशा में चलना चाहिए।

 

3.दीवार पर लगी घड़ी की सही समय और स्थिति

आम तौर पर लोग घड़ी को सेट करने से पहले दो बार नहीं सोचते हैं और इसके परिणामस्वरूप वे घड़ी को कहीं भी रख देते हैं। लेकिन वास्तु के मुताबिक आपके घर की घड़ी को दक्षिण दिशा में बिलकुल नहीं रखना चाहिए। घड़ी को दरवाजे के रास्ते पर नहीं लटकाना चाहिए और उसके खराब हो जाने पर तुरंत ही घड़ी को ठीक करना चहिए या हटा दिया जाना चाहिए।

नोट – अपनी घड़ी को रीयल-टाइम के पीछे कभी भी सेट न करें क्योंकि ऐसा माना जाता है की इससे घर की प्रगति धीमी हो जाती है। इसलिए घर की घड़ी को वास्तविक समय से 2 मिनट आगे ही सेट करें।

 

4.पानी धन का प्रतीक है

वास्तु में यह कहा जाता है की पानी की बर्बादी रोकें और पैसे की बर्बादी से बचें। पानी को धन का प्रतीक माना जाता है और इसकी बर्बादी पैसे की बर्बादी का प्रतीक है। इसके अलावा, अपने घर से किसी भी प्रकार के जमे हुए पानी या अशुद्ध पानी को हटा दें। आज ही चेक करें कि आपके घर में किसी भी प्रकार से पानी की बर्बादी तो नहीं हो रही।

 

5.पौधों से पैसे बढ़ते हैं

इंडोर प्लांट समृद्धि और विकास से जुड़े होते हैं। मनी प्लांट्स आपके घर में अच्छी किस्मत और धन लाने के लिए जाने जाते हैं। हमारे दैनिक जीवन में, ये पौधे सकारात्मक ऊर्जा भर देते हैं। अपने कमरे की दक्षिण-पूर्व दिशा में मनी प्लांट को रखें। उन्हें उत्तर-पूर्व दिशा या ईशान-कोन (जिसे वास्तु शास्त्र में कहा जाता है) में न रखें। ऐसा माना जाता है कि धन संयंत्र को इस दिशा में रखने से आय के स्रोत बढ़ते हैं।

 

6.लॉकर के सामने मिरर रखें

आपके घर में नकद रखने के लिए एक लॉकर होना चाहिए और उस लॉकर के दरवाजे की विपरीत दिशा में एक मिरर होनी चाहिए। जब भी आप अपने लॉकर खोलेंगे तो पैसे मिरर में रिफ्लेक्ट होंगे और दुगुने दिखेंगे। यह सकारात्मक ऊर्जा को आकर्षित करता है और आपके घर की वित्तीय स्थिति में सुधार लाता है।

चित्र श्रोत – Luxury_furniture_desgin, Pinterest, Pexels, Popular Mechanics, Max_Pixel, Flickr

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *