Search

Home / Uncategorized / अच्छे स्वास्थ्य के लिए इन वास्तु नियमों का पालन करें

अच्छे स्वास्थ्य के लिए इन वास्तु नियमों का पालन करें

Ankit Kumar | अगस्त 6, 2018

वास्तु शास्त्र का पालन करने से आपके घर में सकारात्मक ऊर्जा का प्रवाह होता है जिससे आपके स्वास्थ पर सकारात्मक असर पड़ता है। स्वस्थ घर से आपका स्वास्थ्य भी अच्छा रहता है।

आपका स्वास्थ्य सीधे आपके आस पास के वातावरण से जुड़ा हुआ है इसीलिए स्वस्थ घर से आपका स्वास्थ्य भी अच्छा रहता है। घर में सही वास्तु होने से यह आपकी बीमारियों को तो ठीक नहीं कर सकता, लेकिन यह आपको शारीरिक रूप से और मानसिक रूप से स्वस्थ होने में जरूर मदद कर सकता है। वास्तु आपके शरीर और मन को फिर से जीवंत करने और बीमारियों से अधिक तेज़ी से ठीक होने में मदद करने में सक्षम है। घर में ख़राब वास्तु व्यवस्था आपको बीमारी, तनाव और नकारात्मक ऊर्जा का शिकार बना सकती है।

अच्छे स्वास्थ्य के लिए कुछ वास्तु नियामों का पालन करना बहुत लाभदायक माना जाता है। वास्तु शास्त्र का पालन करने से आपके घर में सकारात्मक ऊर्जा का प्रवाह होता है जिससे आपके स्वास्थ पर अच्छा असर पड़ता है।

आइए जाने ऐसे कुछ वास्तु नियमों को जो आपके स्वस्थ्य पर अच्छा प्रभाव डाल सकती हैं-

 

1.सोने की दिशा-

जब भी आप सोते हो तो इस बात का ध्यान हमेशा रखें की आपका सिर दक्षिण की ओर हो। दक्षिण की ओर सिर रख कर सोने से नींद भी अच्छी आती है। सोने की दिशा का सीधा प्रभाव आपके स्वस्थ्य पर पड़ता है और अगर आप सही दिशा में सोते हैं तो इससे आपका स्वस्थ्य तो अच्छा होगा ही साथ ही साथ आपके जीवन में खुशहाली भी बनी रहेगी।  सोने का सही करवट भी बहुत मायने रखता है इसलिए हमेशा दाईं ओर करवट लेकर सोने की कोशिश करें।

 

2.सीढ़ियां बनाने का स्थान

सीढियाँ किसी भी घर का एक अहम् हिस्सा होता है पर क्या आपने कभी ये सोचा है की ये आपके स्वास्थय के लिए भी बहुत अहम् है। सीढ़ियां अगर सही जगह पर ना हों तो इसका सीधा प्रभाव घर के सदस्यों के स्वास्थय पर पड़ता है। कोशिश करें की कभी भी घर की सीढ़ियां घर के बीचों बीच ना बनायें। अगर सीढ़ियों की आवश्यकता है तो वास्तु को ध्यान में रखते हुए उसे घर के किसी किनारे से बनायें इससे घरवालों का स्वास्थय अच्छा रहेगा।

 

3.रसोईघर का सही स्थान चुनें-

घरों में रसोईघर का स्थान एक बेहद महत्वपूर्ण निर्णय है। अगर रसोई घर आपके घर के दक्षिण- पश्चिम क्षेत्र में स्थित नहीं है, तो घर के निवासियों को स्वास्थ्य से जुड़ी कई समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। इसलिए, घर का निर्माण करते समय ही यह ध्यान में रखें की रसोई घर का स्थान सही है या नहीं।

 

4.ओवरहेड बीम को सही जगह पर बनवाएं –

घर के निर्माण के दौरान मुख्य रूप से ओवरहेड बीम को बनवाया जाता है, ये हमारे घर को मजबूत रखने के साथ- साथ उसकी खूबसूरती भी बढ़ाते हैं। लेकिन इससे जुड़ी एक बहुत ही आवश्यक बात यह है की ओवरहेड बीम कभी भी घर के बीचो- बीच से होकर नहीं जाना चाहिए। ओवरहेड बीम हमारे दिमाग से सकारात्मक संचार को अवरुद्ध करते हैं इसलिए ये अगर इन्हे घर के बीच में लगाया गया तो ये हमारे मन के परेशान होने का कारण बन सकते हैं।

 

5.घर के अंदर पौधे लगाएं –

इंडोर प्लांट्स, आपके घर में समृद्धि और शुभकामनाएं लाने के लिए जाना जाते हैं। वास्तु के अनुसार उत्तर दिशा में एक हरे फूलदान में हरे पौधे को रखने से पैसे और बेहतर कैरियर के अवसरों को आकर्षित करने में मदद मिलती है और घर के सदस्यों का स्वास्थय भी सही रहता है। घर में किसी भी इंडोर प्लांट को लगाने से घर के अंदर सकारात्मकता आती है और यह हमारे स्वास्थय के लिए भी बहुत लाभदायक होता है।

चित्र श्रोत – Pixabay, Wikipedia, Mukuro energy living.

 

Ankit Kumar

BLOG TAGS

Uncategorized

COMMENTS (0)

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *