डॉ शिखा शर्मा हमें जंक फूड के हानिकारक प्रभावों के बारे में जानकारी देतीं हैं –

Spread the love

हमें लगातार बताया जाता है की पिज़्ज़ा और बर्गर जैसे जंक फूड हमारे स्वास्थ्य के लिए अच्छे नहीं हैं। हालांकि, हमें यह कभी नहीं बताया जाता की हमारे लिए जंक फूड क्यों खराब हैं।

जाने-मानी पोषण और आहार विशेषज्ञ डॉ शिखा शर्मा इस  ‘क्यों’ का खुलासा करती हैं और हमें हमारे शरीर और हमारे स्वास्थ्य पर जंक फूड लेने के हानिकारक प्रभावों के बारे में बताती हैं।

 

1.कोई पोषण मूल्य नहीं

डॉ शिखा शर्मा का कहना है की जंक फूड में शून्य पोषण मौजूद होता है। शरीर के लिए पर्याप्त पोषण प्राप्त करना बहुत महत्वपूर्ण है, क्योंकि यही पोषण है हमारे शरीर को खिलाता है और हमें स्वस्थ रखता है। यह अच्छी त्वचा, स्वस्थ बाल या शरीर के समग्र स्वास्थ्य हो – इन सभी चीजों के लिए शरीर को पर्याप्त  पोषण की आवश्यकता पड़ती है।

 

2.अतिरिक्त तेल

समोसा, कचोरी, बर्गर और पिज़्ज़ा जैसे स्नैक्स में एक बात आम है, ये सभी खाद्य पदार्थ बहुत सारे तेल से बने होते हैं। ये स्नैक्स मैदे से बने होते हैं और तले हुए होते हैं। फ्राइड खाद्य पदार्थ, मैदा और अतिरिक्त तेल शरीर के लिए बहुत हानिकारक होते हैं। वे बहुत अहेल्थी होते हैं और मोटापा बढ़ाते हैं। अक्सर, मोटापे से ग्रस्त लोग बहुत से स्वास्थ्य विकारों और बीमारियों से पीड़ित रहते हैं।

 

3.खट्टी डकार

जंक फूड पचाने के लिए बहुत मुश्किल रहता है। क्या आपने देखा है की जब आप बाहर से जंक फूड खातीं हैं तो आप बहुत भारी और भरा-भरा महसूस करतीं हैं ? यदि वही खाद्य पदार्थ घर पर बनाकर खाये जाए, तो हम इतना भारी और भरा-भरा महसूस नहीं करते हैं। इसका कारण सरल है, घर पर खाना पकाने के दौरान, हम अच्छी क्वालिटी की सामग्री का उपयोग करते हैं और हम उसमें तेल और मैदे की मात्रा को नियंत्रित कर सकते हैं। इसलिए, इन्हें खाने से वज़न तो बढ़ता ही है, लेकिन डिहाइड्रेशन से भी पीड़ित हो सकते हैं।

 

4.कैल्शियम की कमी

हड्डी के स्वास्थ्य के लिए, कैल्शियम सबसे महत्वपूर्ण घटक है। डॉक्टर हमेशा कैल्शियम युक्त समृद्ध खाद्य पदार्थ जैसे की दूध, दही और अन्य डेरी उत्पादों का उपभोग करने के महत्व पर ज़ोर देते हैं क्योंकि वे जानते हैं की शरीर के लिए कैल्शियम कितना महत्वपूर्ण है। जंक फूड की नियमित खपत शरीर में कैल्शियम के स्तर को कम कर सकती है, जिससे आपकी हड्डियां कमज़ोर हो सकतीं है और आपको ऑस्टियोपोरोसिस जैसे हड्डियों के विकारों से भी पीड़ित कर सकतीं हैं।

 

5.शरीर में अन्य कमियां

कार्बोहाइड्रेट, प्रोटीन या फैट्स हो – हर खाद्य समूह शरीर के समग्र स्वास्थ्य और कल्याण के लिए समान रूप से महत्व रखता है। एक अच्छा डाइट इन सभी पोषक तत्वों का संतुलन बनाए रखता है। अगर हम अपने रोज़ के आहार से किसी भी पोषक तत्व को पूरी तरह से हटा देंगें तो शरीर पर खराब प्रभाव पड़ेगा। जब अनहेल्थी जंक फूड की बात आती है, कैल्शियम की कमी के कारण ये खाद्य पदार्थ, शरीर में अन्य कमियों का कारण बन जाते हैं। यदि शरीर में किसी पोषक पदार्थ की कमीं है तो आपका शरीर स्वचालित रूप से बीमारियों और विकारों से अधिक प्रभावी हो जाएगा जो आपके शरीर में उस पोषक तत्व की कमी से उत्पन्न होते हैं।

डॉ शिखा शर्मा के अनुसार हर किसी को जंक फूड खाना पसंद है, लेकिन शरीर के लिए बहुत अधिक जंक फूड खाना बहुत हानिकारक होता है। वह सप्ताह में एक या दो बार ही जंक फूड खाने की सिफारिश करती है। हालांकि, वह कहती हैं की अन्य दिनों में आपको यह सुनिश्चित करना चाहिए की आप एक स्वस्थ डाइट ले रहीं हैं ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके की आपके शरीर को आवश्यक पोषण प्राप्त हो रहा है जो आपके शरीर की सामान्य, उचित और स्वस्थ कार्यप्रणाली के लिए बेहद महत्वपूर्ण है।

 

स्त्रोत : BBC, Functional Fitness Shoes, Hawaii Pacific Health, Nuttyfeed.com, Power of Positivity, The New Age Parents, YouTube.

 

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *