7 खाद्य पदार्थ जो आपकी पाचन शक्ति को बढ़ाएंगे

Spread the love

पाचन तंत्र की उचित कार्यप्रणाली हमारे शरीर के लिए बहुत महत्वपूर्ण है। भोजन पहले हमारे शरीर में अवशोषित होता है, फिर टूटता है और फिर शरीर से हटा दिया जाता है। एक अच्छे स्वास्थ्य के लिए स्वस्थ पाचन तंत्र होना बहुत महत्वपूर्ण है। कुछ खाद्य पदार्थ शरीर द्वारा ठीक से नहीं पच पाते हैं, जिनसे हमें असहजता महसूस होती है।

कुछ खाद्य पदार्थ ऐसे हैं, जो पाचन में सुधार लाते हैं। तो अगली बार जब भी आपको लगे कि आपने बहुत अधिक खाया है, तो अपने शरीर के पाचन में सुधार लाने के लिए नीचे दी गयी खाद्य पदार्थों को ग्रहण करें।

 

1.दही

दही दूध से बना है, जिसे लैक्टिक एसिड बैक्टीरिया द्वारा फरमेंट किया गया है। दही में ज्यादा मात्रा में बैक्टीरिया या प्रोबियोटिक होते हैं जो पाचन में सुधार लाने और आंत को स्वस्थ रखने में मदद करते हैं। यह जीवाणु स्वाभाविक रूप से आंत में मौजूद होते हैं, लेकिन दही से सेवन से पाचन की प्रक्रिया आसान हो जाती है।

दही में मौजूद प्रोबियोटिक सूजन, कब्ज और दस्त जैसे बहुत से पाचन सम्बन्धी समस्याओं को ठीक करते हैं। प्रोबायोटिक्स लैक्टोज या दूध चीनी के पाचन में भी सहायता करते हैं। हालांकि, बाजार में उपलब्ध सभी दही में ये अच्छे बैक्टीरिया नहीं होते हैं। इसलिए दही खरीदते वक़्त इस बात का ध्यान रखें की उसके डब्बे पर ‘लाइव और एक्टिव कल्चर’ का लेबल हो।

 

2 .सेब

सेब विटामिन ए और सी में समृद्ध होता है। ये लाल फल पोषक तत्वों और खनिजों जैसे पोटेशियम, फोलेट और फॉस्फोरस का अच्छा श्रोत है। सेब में पेक्टिन नामक एक घुलनशील फाइबर भी होता है। सेब खाने से मल की मात्रा बढ़ जाती है। इसी कारण, सेब का इस्तेमाल आमतौर पर कब्ज और दस्त को हल करने के लिए किया जाता है। सेब खाने से आंतों में संक्रमण और सूजन का खतरा भी कम होता है।

 

3 .पपीता

पपीता एक उष्णकटिबंधीय फल है जिसमें पपाइन नामक एंजाइम होता है। पपीता खाने से पेट में मौजूद प्रोटीन टूटते हैं, जिनसे शरीर में पोषक तत्वों के पाचन और अवशोषण में सुधार आता है। पपीते के नियमित सेवन से पेट सही रहता है। यह फल फ़ूड एलर्जी और ह्रदय में जलन जैसी समस्याओं को ठीक करने में भी मदद करता है।

 

4 .अदरक

अदरक भारतीय खाना पकाने में उपयोग की जाने वाली प्रमुख सामग्रियों में से एक है। गरम मसाला होने की वजह से, सर्दियों के महीनों के दौरान अदरक शरीर के लिए बहुत अच्छा होता है। अदरक पाचन के लिए बेहद फायदेमंद है। यह मसाला पेट सम्बन्धी समस्या, सुबह में महसूस होने वाली कमजोरी (गर्भवती महिलाओं में होने वाली), चक्कर आने, गैस और भूख की कमी जैसी समस्याओं से निपटने में मदद करता है। हालांकि, अदरक का इस्तेमाल सीमित मात्रा में करना चाहिए क्योंकि बहुत अधिक अदरक के सेवन से दिल की धड़कन बढ़ सकती है। एक दिन में 2-3 ग्राम अदरक का सेवन करना चाहिए।

 

5 .साबुत अनाज

साबूत अनाज के रूप में वर्गीकृत होने के लिए, अनाज में 100% कर्नेल होना चाहिए, जिसमें ब्रान, रोगाणु और एंडोस्पर्म शामिल हैं। आम अनाज में ओट्स, क्विनोआ, गेहूं और ब्राउन चावल से बने उत्पाद शामिल हैं। साबूत अनाज फाइबर में बेहद समृद्ध होते हैं, इसलिए वे पाचन सम्बन्धी समस्याओं के इलाज और पाचन में सुधार करने में बहुत प्रभावी हैं। साबूत अनाज पाचन में सुधार करते हैं, जो कब्ज को कम करने में मदद कर सकते हैं।

 

6 .सौंफ

सौंफ मुख्य रूप से भोजन में स्वाद जोड़ने के लिए प्रयोग किया जाता है। सौंफ में मौजूद फाइबर कब्ज को रोकने में मदद करता है और पाचन तंत्र की मांसपेशियों को आराम देता है। इसके सेवन से सूजन, पेट फूलना और जोड़ों में दर्द जैसी समस्याओं से निपटारा मिल सकता है।

 

7 .चिया बीज

चिया बीज में बहुत ज्यादा मात्रा में फाइबर पाया जाता है। ये बीज प्रोबायोटिक्स के रूप में काम करते हैं और आंत में मौजूद होने वाले स्वस्थ बैक्टीरिया के विकास को बढ़ावा देते हैं, जिससे पाचन तंत्र में सुधार आता है। चिया के बीज पेट सम्बन्धी अन्य समस्याओं को सुधारने में भी मदद करते हैं।

ऊपर दिए गए खाद्य पदार्थों के साथ अपनी पाचन समस्याओं को अलविदा कहें। इन खाद्य पदार्थों से ना केवल पाचन में सुधार होगा, बल्कि आपका स्वास्थ्य भी सही रहेगा।

 

चित्र स्रोत: Enzymedica, Everyday Health, Food Revolution Network, Healthline, Onlymyhealth,  Organic Facts, The Knclan.com, Times of India

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *