मेनोपौज के बाद रखें अपना खास ख़्याल

Spread the love

महिलाओं को स्त्रीत्व का एहसास दिलाने वाली माहवारी की प्रक्रिया एक निश्चित समय के बाद खुदबखुद ख़त्म हो जाती है यानि कि उसके अंडकोष में हर महीने होने वाले परिवर्तन जोकि गर्भधारण के लिए आवश्यक हैं वह समाप्त हो जाते हैं। यदि लगभग एक साल तक माहवारी ना हो तो इसे चिकित्सक रजोनिवृत्ति या मेनोपौज मान लेते हैं।

 

क्या आप जानती हैं?

मेनोपौज़ होने के बाद महिलाओं में अनेक शारीरिक और मानसिक परिवर्तन आने के कारण कई तरह की स्‍वास्‍थ्‍य संबंधी समस्याएं हो सकती हैं जो बहुत कष्टदायक होती हैं। जैसे कि नींद न आना, थकावट और शिथिलता रहना, विभिन्न अंगों में दर्द रहना, मोटापा बढ़ना इत्यादि। मेनोपौज़ के दौरान सही तरह की देखभाल के अभाव में महिलाओं में बुढ़ापा जल्दी आने लगता है और शरीर शिथिल पड़ने लगता है। इसलिए यह बहुत ज़रूरी है कि आप मेनोपौज़ के दौरान और बाद में भी अपना खास ख़्याल रखें ताकि आपका शरीर और मन दोनों ही इस प्रक्रिया से आए परिवर्तनों को झेलने की क्षमता रख सके।

 

कैसा हो आपका आहार

वैसे तो हमेशा ही लेकिन मेनोपौज़ के बाद अपनी डाइट का खास ख़्याल रखें। मासिक बंद होने के बाद शरीर में एस्ट्रोज़न की कमी के कारण कुछ परिवर्तन आ सकते हैं और इसके लिए ज़रूरी है कि आपका आहार लौह तत्वों और कैलशियम से भरपूर हो। ओस्टिओपोरोसिस एक ऐसी ही समस्या है जो मेनोपौज़ के बाद अक्सर हो जाती है। दूध से बने पदार्थों के साथ साथ, ब्रोकोली, बीन्स और मछ्ली जैसी चीज़ें आपकी कैलशियम की जरूरतों को पूरा करती हैं। इसी प्रकीर आयरन के लिए मिक्स ग्रेन्स के साथ साथ सूखे मेवे, हरी पत्तेदार सब्जियाँ, अंडे इत्यादि खाने चाहिए। अलग अलग तरह के फल आपके लिए पोषण का अच्छा स्रोत होते हैं। ज्यादा वसा से भरी हुई चीज़ें ना खाएं क्यूंकि यह मेनोपौज़ के बाद की स्थिति और बढ़ती हुई उम्र  में ह्रदय के रोग और अन्य कई परेशानियाँ दे सकता है।

 

रखें अपनी त्वचा और बालों का ख़्याल –

मेनोपौज़ के दौरान होने वाले हॉर्मोनल बदलाव आपकी त्वचा और बालों पर दुष्प्रभाव डालते हैं। इस्ट्रोजन की कमी से और कोलेज़न कम बनने से अक्सर महिलाओं के चहरे में महीन रेखाएँ, झुर्रियां और लटकी हुई त्वचा की परेशानी देखने को मिलती है। इसके लिए अपनी त्वचा की अच्छी देखभाल करें। इसे हर सुबह क्लेंज करें और फिर इसे हाईड्रेटेड रखने के लिए एक अच्छी गाढ़ी क्रीम का इस्तेमाल करें ज़ो देर तक त्वचा को नमी देती रहे। साथ ही धूप में जाते हुए सन्सक्रीम का इस्तेमाल ज़रूर करें। तेज़ गरम पानी के प्रयोग से बचें और त्वचा की इलास्टिसिटी बनाए रखने के लिए एंटिऑक्सीडेंट्स से भरपूर आहार लें। सोय एक अच्छा प्राकृतिक आहार है जिसे आप टोफू के रूप में ले कर शरीर में इस्ट्रोजन की कमी के दुष्प्रभावों को कुछ हद तक संभाल सकती हैं । एक और ज़रूरी बात अच्छी त्वचा के लिए शरीर की ज़रूरत के हिसाब से पूरी नींद अवश्य लें।

 

मेनौपौज और आपका वज़न –

शरीर के अंदरूनी उतार चढ़ाव बाहरी तौर पर आपके शरीर का शेप बिगाड़ सकते हैं। मेनोपौज़ के दौरान हॉर्मोनल बदलाव, नींद की कमी, शारीरिक गतिविधियां ना करना और तनाव जैसे कारण बाद में अक्सर महिलाओं को हिप्स और जांघों के साथ साथ पेट पर चर्बी जमा हो जाने की समस्याएँ दे जाते हैं। इस सब को ठीक रखने का एकमात्र तरीका नियमित व्यायाम है जो आपके मूड और वज़न के साथ साथ मांसपेशियों और हड्डियों को भी स्वस्थ रखता है। इसलिए मेनोपौज के बाद एक नियमित व्यायाम के शेड्यूल को बरकरार रखें।

 

मीठे से कम करें दोस्ती –

ज्यादा चीनी आपके लिए किसी भी उम्र में अच्छी नहीं है लेकिन अगर आप मीठे की शौकीन हैं तो मेनोपौज़ के बाद विशेष रूप से चीनी से थोड़ी दूरी बना लें। रिफाइंड शुगर के बजाय आप प्राकृतिक मीठा जो फलों और सूखे मेवों जैसे कि किशमिश इत्यादि में पाया जाता है उसका सेवन करें।  

 

ईटिंग प्लान बनाएँ –

पोस्टमेनोपॉज़ल फेज़ में यह बहुत ज़रूरी है कि आप स्वयं अपना ईटिंग प्लान बनाएँ और अपने खाने की आदतों का ट्रैक रखें।  आप प्रत्येक दिन क्या खाएँगी इस बारे में एक योजना बनाने से ना तो आप ज़रूरत से ज्यादा खाती हैं और ना ही कम। साथ ही शरीर को सभी ज़रूरी पोषक तत्व नियमित रूप से मिलते रहते हैं । रिसर्च कहती हैं कि मेनोपौज़ के बाद अपनी डाइट प्लान करने वाली महिलाएं उन से ज्यादा स्वस्थ और फिट पायी गयीं जिनका अपनी डाइट के बारे में कोई ध्यान नहीं था।

इस सब के साथ साथ अपने पसंद के काम जैसे कि बागवानी या कुकिंग करना और दोस्तों के साथ मनपसंद जगह घूमना, कभी कभार फिल्म देखने जाना जैसे काम आपको मानसिक रूप से इंगेज रखते हैं और ये तो सब जानते हैं कि मन चंगा तो तन चंगा। इसलिए मेनोपौज़ के बाद की ज़िंदगी को दिल से जीयें क्यूंकि ये ही तो हैं असली बेफिक्री के दिन।

 

चित्र श्रोत: www.pixabay.com, www.wikipedia.org,  flicker, skinnyms.com, fatakat.com, వికీపీడియా

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *