Search

Home / Uncategorized / लव मैरिज या अरेंज्ड मैरिज ? कौन सी हैं बेहतर ?

लव मैरिज या अरेंज्ड मैरिज ? कौन सी हैं बेहतर ?

Parul Sachdeva | जुलाई 3, 2018

एक हफ्ते पहले हम एक शादी में गए थे वहां मैंने देखा मेरे कुछ दोस्त किसी मुद्दे पर अटके हुए थे | और मुद्दा था लव मैरिज सक्सेसफुल होती है या अरेंज्ड मैरिज ? ज्यादातर लोग लव मैरिज का पक्ष ले रहे थे तो मुझे लगा मेरा ब्लॉग लव को समर्पित होना चाहिए लेकिन फिर मेरे दिमाग ने कहा -अपने माता-पिता का अनुभव और निर्णय ज्यादा सही होता है और वो हमेशा आपके लिए सही ही सोचेंगे | और सच में अपने पार्टनर को चुनने का कौन सा तरीका सही है, इसकी बहस कभी खत्म नहीं हो सकती | लेकिन क्या हम बता सकते है कि दोनों में से क्या बेहतर हैं ?

शादी एक पवित्र रिश्ता हैं और हर इंसान की ख्वाईश होती हैं कि उसे एक परफेक्ट पार्टनर मिलें | लव मैरिज में आप अपना जीवनसाथी खुद चुनते हैं और अरेंज्ड मैरिज में आपका पार्टनर आपकी फैमिली चुनती हैं | लेकिन हम सब जानते हैं एक सफल रिश्ता तब नहीं बनता जब दो परफेक्ट लोग मिलते हैं बल्कि तब बनता हैं जब वही दो लोग एक दूसरे की कमजोरियों को अपनाकर एक दूसरे को पूरा करते हैं |

 

लव मैरिज

1.लव मैरिज में आप अपने साथी को खुद चुनते हैं, उसके बारे में सब कुछ पहले से जानते हैं, उसकी पसंद नापसंद, उसकी पास्ट रिलेशनशिप, अच्छी और बुरी आदतें भी |

2.जोड़े अपने शादी के फैसले के खुद ज़िम्मेदार होते हैं | अगर भविष्य में कुछ गलत होता हैं तो सारा दोष उन पर ही जाता हैं और किसी पर नहीं |

3.ऐसे जोड़े दहेज़ प्रथा को करारा जवाब दे सकते हैं क्योंकि इन्हे इतनी स्वतंत्रता होती हैं कि वो ये फैसला खुद ले सकें |

4.एक दूसरे की समझ से शादी में फ़ालतू खर्चा भी कम किया जा सकता हैं |

5.ऐसे में दोनों को पता होता हैं बच्चे कब चाहिए या करियर बनाना कितना जरूरी हैं |

 

अरेंज्ड मैरिज

1.अरेंज्ड मैरिज दो लोगों का फैसला नहीं बल्कि पूरे परिवार की सहमति होती हैं |

2.दोनों परिवार एक दूसरे को अच्छे से परखते हैं और अगर सब बातें ठीक लगती हैं तभी आगे बढ़ते हैं | इसमें सब कुछ सरप्राइज होता हैं | इसमें केवल आपकी राय पूछी जाती हैं लेकिन एक फायदा हैं कि आप ना कह सकते हैं |

3.ऐसी शादी का अपना एक अलग मज़ा हैं जब धीरे-धीरे आप एक दूसरे को पहचानने लगते हैं और आपको ऐसा लगता हैं कि आपके पति अब उतने अनजान नहीं जितने लगते थे और प्यार की शुरवात होती  हैं |

4.आपको प्यार करने वाला सिर्फ आपका पति ही नहीं बल्कि आपका नया परिवार ना जाने कितनी खुशियाँ आप पर न्योछावर कर देता हैं |

5.माँ-बाप की मंजूरी भगवान की मंजूरी होती हैं |

 

ना लव मैरिज ना अरेंज्ड मैरिज, एक शादी को सफल करने के लिए दो समझदार लोगों की जरूरत होती हैं | ये तो एक सफर हैं, हमसफ़र आपको आपकी किस्मत से मिलता हैं | शादी चाहे किसी से भी हो प्यार की गाड़ी ही मंजिल तक पहुँचाती हैं | आपको क्या लगता हैं ? अगर भगवान मौका देते तो आप क्या चुनते?

चित्र स्त्रोत -Morning tea,pinterest

 

Parul Sachdeva

BLOG TAGS

Uncategorized

COMMENTS (0)

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *