Search

Home / Women Health Tips in Hindi / एपेंडिसाइटिस के लक्षण जिन्हे गलती से भी नज़रअंदाज ना करें

एपेंडिसाइटिस के लक्षण जिन्हे गलती से भी नज़रअंदाज ना करें

Ankit Kumar | जून 11, 2018

आजकल लगभग हर अगला इंसान एपेंडिसाइटिस के दर्द से परेशान है। पर क्या आप ये जानते हैं की एपेंडिसाइटिस होता क्या है??  एपेंडिसाइटिस अपेंडिक्स में होने वाली एक सूजन है। इसमें उंगली के आकार का एक पाउच आपके कोलन से पेट के निचले दाएं हिस्से पर निकला हुआ होता है। एपेंडिसाइटिस में आपके पेट के निचले दाएं हिस्से में दर्द महसूस होता है। हालांकि, ज्यादातर लोगों में ये दर्द नाभि के चारों ओर शुरू होता है और फिर फैलता है। जैसे ही सूजन बढ़ने लगती है, एपेंडिसाइटिस का दर्द भी बढ़ने लगता है और अंततः गंभीर हो जाता है।

हालांकि एपेंडिसाइटिस की समस्या किसी भी उम्र के इंसान को हो सकती है, पर अक्सर यह 10 से 30 वर्ष की उम्र के लोगों को होता है। एपेंडिसाइटिस के दर्द में कई बार हम इसे समझने में कंफ्यूज हो जाते हैं, हमें लगता है की ये दर्द गैस या किसी और वजह से हो रही है। इसलिए ज़रूरी है एपेंडिसाइटिस के लक्षणों को जानना। अगर इसका इलाज समय पर न हो तो आपके अपेंडिक्स के फटने और इन्फेक्शन होने का खतरा हो सकता है।

एपेंडिसाइटिस को समझने के लिए सबसे ज्यादा ज़रूरी है इसके लक्षणों को जानना तो आइये जानते हैं इसके कुछ ख़ास लक्षणों के बारे में-

 

1.निचले पेट के दाईं तरफ अचानक से दर्द होना –

एपेंडिसाइटिस होने पर अक्सर पेट में दर्द होता है और ये दर्द ख़ास कर के निचले पेट के दाएं भाग में होता है।

 

2.भूख न लगना-

एपेंडिसाइटिस में दर्द के साथ-साथ भूख भी ख़त्म जाती है, खानपान से दिल हट जाता है जिससे अन्य कई समस्याओं का सामना करना पड़ता है।

 

3.पेट के दर्द का अचानक से बढ़ जाना-

एपेंडिसाइटिस का दर्द खांसने, चलने या शारीरिक काम करते वक़्त अचानक से और भी बढ़ जाता है।

 

4.पेशाब करते वक़्त दर्द होना-

एपेंडिसाइटिस कई बार पेशाब को भी प्रभावित करती है, इससे हमारी आंतें बिगड़ती हैं जिससे पेशाब करते वक़्त दर्द होता है।

 

5.उलटी और चक्कर आना-

एपेंडिसाइटिस रोगियों में पाचन समस्याएं बेहद आम हैं। इसमें पेट दर्द के साथ उल्टियां भी होती हैं और साथ ही साथ चक्कर भी आते हैं।

 

6.हल्का बुखार होना-

बुखार सामान्य है, क्योंकि यह एक इन्फेक्शन है। अपेंडिक्स में सूजन हो जाता है और इम्युनिटी सिस्टम कमजोर हो जाता है जिससे शरीर का तापमान बढ़ता है। और अगर इलाज नहीं हुआ तो बुखार धीरे-धीरे बढ़ता ही जाता है।

 

7.नाभि के पास अचानक से दर्द होना-

इसमें नाभि के चारों ओर अचानक से दर्द शुरू हो जाता है और ये दर्द पेट के दाईं ओर फैलने लगता है।

 

एपेंडिसाइटिस होने के कई कारण हो सकते हैं, और कई बार तो हमें उसके असली कारण का पता भी नहीं चलतानिचे दिए गए हैं इसके कुछ मुख्य कारण

  • अपेंडिक्स के अंदर ब्लॉकेज होना।
  • आपके अपेंडिक्स की दीवार में मौजूद टिशूस का बढ़ना।
  • पेट दर्द से सम्बन्धी रोग का होना।
  • पेट में घाव या जख्म का होना।
  • पेट में मौजूद पैरासाइट्स और अन्य जीवाणु।

 

अगर आप भी ऊपर लिखे लक्षणों में से कुछ महसूस कर रहे हैं तो तुरंत किसी डॉक्टर से संपर्क करें ।

चित्र श्रोत- pixabay, flickr, baby pedia, public domain files, symptomy, moody air force base, px here

 

Ankit Kumar

COMMENTS (0)

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *