फुट कॉर्न और मस्सों से छुटकारा पाने के तरीके

Spread the love

मस्से देखने में ऐसे लगते हैं जैसे पैरों या उंगलियों पर एक छोटा सा मांस उछल रहा है और ये मानव पेपिलोमावायरस के कारण होते हैं। मस्से बड़े आसानी से एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में स्थानांतरित हो जाते हैं लेकिन महीनों के भीतर खुद ही ठीक भी जो जाते हैं। हालांकि, मस्से तेजी से बढ़ने लगते हैं इसलिए इस पर काबू पाने के लिए उचित देखभाल जरूरी है। आपके शरीर में एक खराब इम्यून सिस्टम के कारण ये और तेजी से बढ़ सकते हैं। यूं तो सैकड़ों प्रकार के मस्से होते हैं, लेकिन पैरों में होने वाले मस्से का नाम पेप्लेर है।

कॉर्न रूखे और मोटे त्वचा होते हैं जो किसी प्रकार के बाहरी दबाव के कारण विकसित होते हैं। ये मुख्य रूप से आपके पैर की उँगलियों के आस- पास के क्षेत्र में होते हैं। कॉर्न होने का मुख्य कारण पैरों की उँगलियों में लंबे समय तक होने वाले दबाव होते हैं। साथ ही साथ लंबे समय तक खड़े होने, टाइट जूते या ऊँची हील पहनने और बिना मोजे के जूते पहनते से भी फुट कॉर्न होने की संभावना बढ़ती है।

हालांकि देखने में मस्सा और कॉर्न समान लग सकते हैं, पर ये दोनों अलग-अलग मुद्दे हैं जिनसे छुटकारा पाने के लिए अलग- अलग तरीकों का इस्तेमाल करना पड़ता है।

 

लक्षण –

  • कॉर्न आपके पैर की उँगलियों पर एक बहुत ही कठोर त्वचा की तरह दिखते हैं।
  • दबाए जाने पर यह दर्दनाक होते हैं।
  • इसके होने पर खड़े होने या चलने में कठिनाई होगी।
  • संक्रमित क्षेत्र में अत्यधिक सूखापन हो जाता है।

  • मस्से छोटी उंगलियों की तरह दिखते हैं।
  • ये ज्यादातर आपके हाथों में या चेहरे पर होते हैं।
  • ये गुलाबी या काले रंग के होते हैं।

 

इन सरल तरीकों का पालन करके घर पर ही मस्से और फुट कॉर्न का इलाज किया जा सकता है

मस्सा-

ऐलो वेरा जेल  –

ऐलो वेरा जेल निकालें और कॉटन बॉल की सहायता से संक्रमित क्षेत्र पर लगाएं। फिर मस्से पर एक कॉटन बॉल रखकर पट्टी या टेप से बांधें। इसे कुछ समय के लिए छोड़ दें। 1-2 सप्ताह के लिए रोजाना 2 बार इस प्रक्रिया को दोहराएं। ऐलो वेरा मस्से के इलाज में मदद करता है।

 

लहसुन –

लहसुन एंटीफंगल और जीवाणुरोधी गुणों में समृद्ध है और यह संक्रमण को ठीक करने में मदद करता है। मस्से पर लहसुन की एक कली को रखें और इसे टेप या पट्टी के साथ बांधकर 20 मिनट तक रहने दें। एक सप्ताह के लिए इसे रोजाना दो बार दोहराएं। मस्सा स्वाभाविक रूप से निकल जाएगा।

 

सेब का सिरका

सेब का सिरका एक शक्तिशाली जीवाणुरोधी घटक है जो मस्सों को ठीक करने में मदद करता है। एक चम्मच पानी के साथ दो चम्मच सेब का सिरका मिलाएं और कॉटन बॉल के साथ मस्से पर लागू करें। कॉटन बॉल को एक पट्टी के साथ बांधें और कुछ मिनट के लिए छोड़ दें। यह मस्से को काला कर देगा और खुद ही गिर जाएगा। इसे एक सप्ताह के लिए दोहराएं और परिणाम देखें।

 

फुट कॉर्न –

ब्रेड

ब्रेड के एक टुकड़े को सिरके में डुबोएं और रात भर के लिए इसे कॉर्न पर रखें। संक्रमित क्षेत्र में अच्छी तरह चिपकने के लिए पैरों में मोजे या पट्टी पहन लें। यह त्वचा को नरम करके रात भर में कॉर्न को ठीक कर देगी।

 

नींबू –

नींबू विटामिन सी में समृद्ध है और फुट कॉर्न को ठीक करने में मदद करता है। नींबू का एक टुकड़ा काट लें और इसे कॉर्न पर लगाएं। रात भर के लिए पैरों में सूती मोज़े पहने। नींबू में मौजूद सिट्रिक एसिड त्वचा को नरम करने में मदद करती है जिससे कॉर्न स्वाभाविक रूप से ठीक हो जाएगा।

 

प्याज

एक कप सिरके में प्याज का एक टुकड़ा डालें और इसे कॉर्न पर रखें। इसे कुछ मिनट के लिए रहने दें या रात भर के लिए एक पट्टी बाँध कर छोड़ दें। जब तक त्वचा नरम नहीं होगी तब तक रोजाना दिन में दो बार इसे दोहराएं।

 

कॉर्न और मस्सों से निपटने के अन्य तरीकों में शामिल हैं –

  • बेकिंग सोडा
  • प्युमिक स्टोन
  • कॉस्टर ऑयल
  • सेंधा नमक
  • लेमन ग्रास युक्त तेल

 

चित्र स्रोत – wikipedia commons, pixabay

 

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *