अपने बच्चे के बेडरूम को सजाएं इन वास्तु टिप्स से

Spread the love

हम सभी अपने बच्चे और उनके भविष्य के बारे में लगातार चिंता करते हैं। हर माँ- बाप की ये इच्छा होती है की वो अपने बच्चे को हर चीज़ में बेहतर बनाएं। क्या आप भी ऐसा ही चाहते हैं? तो आइये जानिये की वास्तु किस तरह आपके बच्चे के जीवन में बदलाव ला सकता है।  बच्चे के कमरे को वास्तु के अनुसार सजाने से बच्चे को जीवन में हर जगह सफलता मिलेगी।

अपने बच्चे के बेडरूम को निचे दिए गए वास्तु टिप्स के अनुसार सजाएं।

  • बच्चे के कमरे को घर के पश्चिमी हिस्से में बनवाएं। वैकल्पिक रूप से पूर्व, उत्तर या पूर्वोत्तर दिशा में भी कमरे को बनवाया जा सकता है।  बच्चे का कमरा इस दिशा में होने से उनकी समझदारी, शक्ति और ज्ञान बढ़ती है।
  • स्टडी रूम का दरवाजा उत्तर, पूर्व या पूर्वोत्तर दिशा की ओर होना चाहिए।
  • खिड़कियाँ पूर्व या उत्तर दिशा में होनी चाहिए। पश्चिम में एक छोटी सी खिड़की बनवाई जा सकती है। खिड़कियों के खुले रखने से हवा को फैलने में मदद मिलती है जिससे कमरे से नकारात्मक ऊर्जा कम हो जाती है।
  • बिस्तर को दक्षिणपश्चिम दिशा में रखा जाना चाहिए और बच्चे को अपना सिर पूर्व या दक्षिण दिशा में करके सोना चाहिए। बॉक्स बेड इस्तेमाल ना करने की कोशिश करें।

  • वार्डरोब, अलमारी और किताबों के रैक को दक्षिण या पश्चिम दिशा में रखना चाहिए।
  • कंप्यूटर को उत्तर दिशा में रखा जाना चाहिए।
  • सभी फर्नीचर दीवार से कम से कम 3 इंच की दूरी पर होने चाहिए।
  • मजबूत लकड़ी से बने फर्नीचर चुनें।

 

स्टडी टेबल

  • स्टडी टेबल को उत्तर दिशा में रखना चाहिए।
  • एकाग्रता बढ़ाने के लिए पढ़ते वक़्त बच्चे का चेहरा उत्तर की दिशा में होना चाहिए।
  • जीवन में आगे बढ़ने के लिए सीधे बैक वाली कुर्सियों का उपयोग करना चाहिए।
  • अध्ययन करने वाले बच्चे की छाया किताबों पर नहीं आनी चाहिए।
  • किताबों के शेल्फ को स्टडी टेबल पर नहीं रखना चाहिए।

 

कमरे के अंदर

  • बच्चे के कमरे में मुख्य रूप से हरे रंग या हल्के पीले रंग का प्रयोग करें।
  • ज्यादा एक्टिव बच्चों के लिए नीला रंग सबसे बेहतर है।
  • कमरे में सकारात्मक एनर्जी लाने के लिए कमरे के दक्षिणपूर्व कोने में अपलाइटर्स रखें।
  • बच्चे के कमरे में सकारात्मक ऊर्जा लाने के लिए स्टडी टेबल पर सरस्वती की एक मूर्ति रखें।
  • बच्चे में दिमाग में अच्छे विचार और शांति लाने के लिए कमरे के उत्तर पूर्व कोने को पानी से भरी हुई किसी चीज़ से सजाएं।
  • मानसिक तनाव पैदा करने वाले तीव्र और स्पॉट लाईट से बचें।

  • बच्चे में प्रेरणा लाने के लिए उनके कमरे को घूमते हुए घोड़े की पेंटिंग से सजाएं। कमरे के केंद्र को खाली रखें।

 

अन्य टिप्स-

  • बच्चों के कमरे में अच्छी तरह उजाला होना चाहिए। सुनिश्चित करें कि दिन में कुछ समय के लिए ही सूर्य का प्रकाश या कम से कम प्राकृतिक प्रकाश कमरे में प्रवेश करे।
  • नोकीले, बेढंगे या पुराने डिज़ाइन के फर्नीचर को कमरे में ना रखें।
  • बच्चों को उनके बिस्तर पर खाना न खाने दें।

 

इन वास्तु हैक्स को अपनाने के बाद आपके बच्चे के कमरे में हमेशा पॉजिटिव एनर्जी रहेगी और बच्चे हर क्षेत्र में आगे बढ़ेंगे।

चित्र श्रोत: Pixabay and Pexels

 

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *