पेशाब रोकने से होने वाली समस्याएं

Spread the love

जब भी आपको बाथरूम जाने की आवश्यकता महसूस हो, तो उसी वक़्त आपको चले जाना चाहिए। मूत्राशय मूत्र से आधा भरा होता है, तो मस्तिष्क को संकेत आ जाता है। जब मूत्राशय को पेशाब करने के आग्रह को नियंत्रित करने के लिए कहा जाता है तब मस्तिष्क हमें बाथरूम में जाने का संकेत भेजता है।

एक स्वस्थ वयस्क मूत्राशय मूत्र के 2 कप तक स्टोर कर सकता है। हालांकि, नियमित आधार पर पेशाब करने की इच्छा को रोकना बिल्कुल भी अच्छा नहीं है। पेशाब रोकने से होनी वाली समस्याएं निम्नलिखित हैं।

 

1.दर्द

जो लोग नियमित रूप से पेशाब को रोकते हैं, वे गुर्दे या मूत्राशय में दर्द महसूस कर सकते हैं। कुछ मामलों में जब व्यक्ति अंततः पेशाब करता है, तो उस दौरान भी दर्द महसूस कर सकता है।

 

2 .मूत्र पथ संक्रमण (यूटीआई)

यूटीआई तब होता है जब मूत्राशय ऊतकों में बैक्टीरिया फ़ैल जाता है। पेशाब को रोकने से बैक्टीरिया आकार में दोगुना हो सकता है और पूरे मूत्र पथ में फैल सकता है, जिससे यूटीआई हो सकता है। डॉक्टरों का कहना है कि यदि आप लगातार यूटीआई का शिकार हो रहे हैं, तो आपको पेशाब को रोकना नहीं चाहिए। यूटीआई के कुछ सामान्य लक्षण हैं:

  • पेशाब करते समय जलन
  • निचले पेट में दर्द
  • बार-बार पेशाब लगना
  • बद्बूदार मूत्र
  • हलके या गाढ़े रंग का मूत्र
  • मूत्र में रक्त का आना

 

3 .मूत्राशय में खिंचाव

नियमित रूप से लंबे समय के लिए पेशाब रोकना भी मूत्राशय की मांसपेशियों को फैलाने का कारण बन सकता है। एक बार मूत्राशय के फैल जाने से स्वाभाविक रूप से पेशाब का बाहर निकलना बहुत मुश्किल हो सकता है। चरम मामलों में, कैथेटर जैसे अतिरिक्त उपायों का भी उपयोग करने की आवश्यकता हो सकती है।

 

4 .श्रोणि तल मांसपेशियों को नुकसान

पेशाब को रोकने से श्रोणि तल की मांसपेशियों को नुकसान पहुंच सकता है। इससे प्रभावित होने वाली मांसपेशियों में से एक यूरेथ्रल स्फिंकर है। यूरिथ्रल स्फिंकर पेशाब को लीक करने से रोकने के लिए मूत्रमार्ग को बंद रखता है। मांसपेशियों में नुकसान आने से मूत्र असंतुलित हो सकता है, यानी, मूत्र का अनैच्छिक रिसाव हो सकता है। हालांकि, कीगल अभ्यास (श्रोणि तल अभ्यास) इन मांसपेशियों को मजबूत कर सकते हैं, मूत्र रिसाव को रोक सकते हैं और मांसपेशियों की क्षति की मरम्मत कर सकते हैं।

 

5 .पथरी

मूत्र में यूरिक एसिड और कैल्शियम ऑक्सालेट जैसे खनिज होते हैं। किडनी स्टोन से पीड़ित व्यक्ति को पेशाब रोकने पर किडनी के पत्थरों के लिए यह अधिक संवेदनशील हो सकता है।

इन प्रभावों के बावजूद, कभी-कभी परिस्थितियां ऐसी होती हैं कि आपको उपयोग करने के लिए एक साफ बाथरूम नहीं मिल रहा है। और पेशाब रोकने के अलावा आपके पास कोई दूसरा विकल्प नहीं है, तो इस समय पेशाब रोकने के लिए निम्न तकनीकों को अपनाएं:

  • अपने आप को ऐसे कार्य में शामिल करें जो आपके दिमाग को एक पहेली या खेल की तरह व्यस्त रखे
  • संगीत सुनें
  • यदि आप पहले से ही बैठे हैं, तो उस स्थिति में बने रहें
  • किताब पढ़ें
  • सोशल मीडिया के माध्यम से स्क्रॉल करें
  • अपने आप को गर्म रखें

चित्र स्रोत: Everyday Health, Healthline, Medical News Today, Pampers, Time Magazine,  Verywell Health

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *