5 जवाब जिन्होंने दिलाये भारत को ‘मिस वर्ल्ड’ और ‘मिस यूनिवर्स’  के ख़िताब

Spread the love

इसमें कोई शक नहीं कि भारतीय महिलाएं दुनिया में सबसे ख़ूबसूरत महिलाओं में गिनी जाती हैं। आपको यह जान कर हैरानी होगी कि हमारी लड़कियां 1966  से देश का नाम रोशन कर रही हैं। मिस वर्ल्ड ख़िताब की पहली भारतीय विजेता थीं ‘रीता फरिआ’। इस प्रतियोगिता में प्रतियोगियों की सिर्फ बाहरी खूबसूरती को नहीं देखा जाता, बल्कि उनकी अंदरूनी खूबसूरती को भी सराहा जाता है।

चलिए आपको भारत की विजयी प्रतियोगियों के सवाल-जवाब राउंड के दौरान पूछे गए सवालों के सराहनीय जवाबो के बारे में बताते हैं –

1. ऐश्वर्या राय 

aishwarya rai miss world

1994 वर्ष में मिस वर्ल्ड चुनी गयी ऐश्वर्या राय से पूछा गया था कि उनके अनुसार मिस वर्ल्ड बनने के लिए कौनसी खूबी सबसे ज़रूरी है। उनका जवाब दिल को छू देने वाला था। उन्होंने पिछली सभी विजेताओं को सराहते हुए कहा कि मिस वर्ल्ड बनने के लिए सबसे ज़रूरी है दयावान होना और दुसरो कि तरफ प्रेमभावना रखना।

 

2. प्रियंका चोपड़ा 

priyanka chopra miss world

साल 2000 में मिस वर्ल्ड का ख़िताब जीतने वाली प्रियंका से पूछा गया था कि वो किस जीवित महिला को सबसे सफल समझती हैं और क्यों? जिस पर प्रियंका ने झट से जवाब दिया कि एक बहुत ही अद्भुत औरत उनके दिल के बहुत करीब है और वो और कोई नहीं बल्कि मदर टेरेसा हैं। मदर टेरेसा कि इंसानियत और दयाभावना से पूरी दुनिया को प्रेरणा मिलती है।

 

3. मानुषी चिल्लर 

Manushi chhillar miss world

इनसे पूछा गया था कि इनके मुताबिक किस व्यवसाय की सैलरी सबसे अधिक होनी चाहिए? इसका जवाब भी मानुषी की ही तरह सुन्दर था। उन्होंने अपने जीवन में अपनी माँ के योगदान को याद करते हुए कहा की एक माँ को सबसे ज़्यादा प्यार और सैलरी दी जानी चाहिए! मनुष्य को 2017 में मिस वर्ल्ड का ख़िताब मिला था।

 

4. सुष्मिता सेन 

sushmita sen miss universe

1994 में मिस यूनिवर्स का ख़िताब जीतनेवाली सुष्मिता से पूछा गया था की एक औरत होने का मूलतत्व क्या है? इसका जवाब सुष्मिता ने यह दिया था की एक औरत होना अपने आप में सबसे बड़ा वरदान है क्यूंकि वही दुनिया को आगे बढ़ाती है, आदमी को प्यार और दुलार करना सिखाती है। यह ही औरत होने का मूलतत्व है।

 

5. लारा दत्ता 

lara dutta miss universe

साल 2000 में मिस यूनिवर्स का ख़िताब जीतने वाली लारा से पूछा गया था की बहार कुछ लोग मिस यूनिवर्स ख़िताब को औरतों की तौहीन मान रहे हैं, आप उन्हें कैसे समझाएंगी? लारा ने इसका जवाब बहुत ही अक्लमंदी से दिया। उन्होंने कहा की मिस यूनिवर्स जैसे ख़िताब जवान लड़कियों के लिए एक ऐसा मंच है जहाँ से वो अपनी आवाज़ दुनिया तक पहुंचा सकती हैं और किसी भी क्षेत्र में काम कर सकती हैं।

चित्र स्त्रोत: pinterest, hindustan times, pinkvilla, bollywood bubble

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *