Search

Home / Top Cooking Recipes in Hindi / Holi Special Recipes in Hindi: होली के पकवान और ख़ास मिठाइयाँ!

holi special recipes in hindi

Holi Special Recipes in Hindi: होली के पकवान और ख़ास मिठाइयाँ!

Himanshu Pareek | मार्च 19, 2021

होली भारत के प्रमुख त्यौहारों में से एक है। पूरे देश में इस त्यौहार को रंगों के साथ हर्षोल्लास से मनाया जाता है, और साथ ही इस ख़ास मौके पर बनाई जाती है तरह-तरह की मिठाइयाँ। इसलिए हम आपके लिए लेकर आए हैं Holi Special Recipes in Hindi। तो हो जाइए तैयार इस विशेष मौक़े पर कुछ बेहतरीन होली के पकवान बनाने के लिए!

भारत में होली के त्यौहार की बात ही कुछ और होती है। हमारे देश में होली मनाने के अलग-अलग तरीकों के साथ साथ, होली के पकवान भी कई तरीकों से बनाये जाती है। इस आर्टिकल में आगे हम आपको बताएंगे कि होली किस लिए मनाई जाती है, और होली के अवसर पर कौनसे पकवान बनाये जाते हें जीने आप आसानी से घर पर बना सकते हे।

 

होली किस लिए मनाई जाती है?

भारतीय पंचांग के अनुसार होली फाल्गुन मास की पूर्णिमा को मनाई जाती है। पौराणिक कथाओं के अनुसार होली का त्यौहार भक्त प्रह्लाद और असुर राजा हिरण्यकश्यप के संघर्ष में भक्त प्रह्लाद की जीत के जश्न के रूप में मनाया जाता है। दरअसल हिरण्यकश्यप राक्षसी प्रवृत्ति का था, और अपने पुत्र प्रह्लाद की ईश्वर भक्ति देखकर परेशान रहता था। इस कारण उसने भक्त प्रह्लाद को मारने के अनेकों प्रयास किये पर प्रह्लाद पर भगवान की छत्रछाया होने के कारण हिरण्यकश्यप कभी सफल नही हो पाया। इसके बाद उसने अपनी बहन होलिका से सहायता मांगी। कहा जाता है कि होलिका को भगवान शिव से वरदान में एक चुनरी प्राप्त थी, जिसे ओढ़ने पर होलिका कभी आग में नही जल सकती थी।

वरदान में मिली हुई चुनरी का लाभ उठाते हुए होलिका ने भक्त प्रह्लाद को मारने के लिए एक योजना बनाई। उस योजना के अनुसार होलिका प्रह्लाद को लेकर जलती हुई आग में बैठी और ऊपर से शिवजी से वरदान में मिली चुनरी ओढ़ ली। इस तरह वह जलने से बच जाती और प्रह्लाद भस्म हो जाता, पर भगवान विष्णु की माया से सब योजना के विपरीत हुआ। जब होलिका जलती हुई लकड़ियों पर बैठी, उस समय हवा का ऐसा झोंका आया कि चुनरी उड़कर भक्त प्रह्लाद के ऊपर आ गयी और होलिका जलकर भस्म हो गयी। नगरवासियों ने इसे बुराई पर अच्छाई की विजय के रूप में देखा और एक-दूसरे को रंग लगाकर मिठाइयां बाँटी। पुराणों के अनुसार तब से ही होलिका दहन और रंग खेलने की परंपरा चली आ रही है।

 

होली के पकवान- Holi Special Recipes

होली पर भारत के अलग-अलग क्षेत्रों में अलग-अलग तरह के पकवान तैयार किये जाते हैं। होली पर अधिक महत्व मीठे का होता है और होली पर घर आने वाले मेहमानों की आवभगत भी मीठे के साथ ही की जाती है। आइये जानते हैं होली पर बनाये जाने वाले कुछ प्रमुख व्यंजनों के विषय में-

 

1. गुजिया

Gujia Recipe in Hindi

गुजिया होली पर खाया जाने वाला सबसे प्रमुख व्यंजन है। यूँ तो गुजिया को कभी भी खाया जा सकता है पर होली की गुजिया का अपना विशेष महत्व है। गुजिया स्वाद में मीठी होती है और इसे कई तरीकों से बनाया जाता है। गुजिया, मावे और सूखे मेवों के मिश्रण को मैदा की परत के भीतर भरकर तैयार की जाती है। होली पर प्रचलित मावा गुजिया बनाने की विधि (Mawa gujiya recipe in Hindi) आप यहाँ से देख सकते हैं। तो अगली बार जब कोई आपसे होली की मिठाई माँगे, तो उन्हें गुजिया ज़रूर खिलाएँ।

 

2. रसमलाई

Ras Malai Recipe

रसमलाई एक बंगाली मिठाई है जिसे होली पर बड़े चाव से खाया जाता है। चूँकि होली आते-आते मौसम में गर्मी बढ़ने लगती है, ऐसे में ठंडी-ठंडी रसमलाई खाने का मज़ा ही कुछ और होता है। रसमलाई को ताज़े छेने, मैदा व दूध के मिश्रण से तैयार किया जाता है। केसर, बादाम व अन्य सूखे मेवों से रसमलाई का स्वाद और भी बढ़ जाता है। अगर सुनकर ही आपके मुंह में पानी आने लगा है और आप सोच रहे हैं कि रसमलाई कैसे बनाई जाती है, तो रसमलाई बनाने की संपूर्ण विधि आप यहाँ से देख सकते हैं।

 

3. इमरती

Imarti Recipe

होली के शुभ-अवसर पर चटक नारंगी रंग और मीठे स्वाद से भरी इमरती भी खासी पसंद की जाती है। यह एक प्रमुख होली की रेसिपी है। इमरती उड़द की दाल से बनाई जाती है। इमरती बनाने की रेसिपी आप यहाँ से देख सकते हैं।

 

4. घेवर

Ghevar Resize

घेवर एक राजस्थानी मिठाई है जिसकी मांग होली आते-आते बढ़ने लगती है, और फिर तीज़ व गणगौर तक बनी रहती है। घेवर को दूध, मैदा व मावे के मिश्रण से तैयार किया जाता है। आप घेवर की आसान विधि से घर पर ही स्वादिष्ट और कुरकुरे घेवर तैयार कर सकते हैं।

 

5. मावे के पेड़े

Peda Resize

होली का त्यौहार शायद मावे के मुलायम पेड़े खाये बिना पूरा नही हो सकता। मावे के पेड़े बनाना बहुत ही आसान है और एक बार बनाने के बाद मावे के पेड़े लंबे समय तक खराब नही होते। मावे के पेड़े ताज़े खोये को अच्छी तरह भूनकर और उसमें शक्कर मिलाकर तैयार किये जा सकते हैं। मावे के पेड़े बनाने की सम्पूर्ण विधि आप यहाँ से देख सकते हैं।

 

6. बेसन की बर्फी

Besan Barfi Resize

बेसन से हम कई तरह के पकवान तैयार करते हैं, पर होली के अवसर पर उत्तर भारत में बेसन की बर्फी बड़े चाव से खाई जाती है। बेसन की बर्फी बनाना बहुत ही आसान होता है और इसे घर में मौजूद सामान्य सामग्री जैसे बेसन, घी, काजू व शक्कर के मिश्रण से बनाया जा सकता है। बेसन की बर्फी बनाने की सम्पूर्ण विधि आप यहाँ से देख सकते हैं।

 

7. ठंडाई

Thandai Resize

ठंडाई एक मिठाई न होकर एक मीठा पेय पदार्थ है जिसे होली के मौके पर ख़ास महत्व दिया जाता है। उत्तर भारत में होली पर घर आने वाले मेहमानों की आवभगत में ठंडाई का विशेष महत्व होता है। ठंडाई विभिन्न तरह के सूखे मेवों और मसालों से तैयार की जाती है तथा इसे दूध में मिलाकर परोसा जाता है। गर्मी के मौसम में ठंडाई का महत्व और भी बढ़ जाता है, और अच्छी बात यह है कि इसे बहुत ही आसानी से तैयार किया जा सकता है। ठंडाई बनाने की रेसिपी (Thandai recipe in hindi) आप यहाँ से देख सकते हैं।

होली भारत का एक प्रमुख त्यौहार है और रंगों के साथ-साथ इस त्यौहार में मिठाइयों का भी बहुत ज़रूरी होती हैं। चूँकि आजकल बाजार में मिलने वाली मिठाईयों में मिलावट की शिकायत बहुत रहती है, इसलिए शुभ अवसरों पर घर में ही मिठाइयाँ बनाना श्रेष्ठ रहता है।

इस आर्टिकल Holi Special Recipes in Hindi में हमने आपसे होली के अवसर पर खाई जाने वाली विशेष मिठाईयों के बारे में चर्चा की। कैसा लगा आपको हमारा ये आर्टिकल, हमें बताइये, साथ ही इसे साझा कीजिये अपने दोस्तों और परिवारजनों के साथ। ऐसी ही महत्वपूर्ण जानकारी और नई-नई रेसिपीज़ के लिए जुड़े रहिये BetterButter के साथ।

 

BetterButter की ओर से आपको और आपके परिवार को होली की अनंत शुभकामनाएं!

 

Disclaimer-: BetterButter इस ब्लॉग में प्रकाशित किए गए किसी भी चित्र अथवा वीडियो का आधिकारिक दावा नहीं करता है। इस ब्लॉग में सम्मिलित दृश्य-श्रव्य सामग्री पर मूल रचनाकार के अधिकार का हम पूरा सम्मान करते है तथा प्रकाशित रचना का उचित श्रेय रचनाकार को देने का पूर्ण प्रयास करते है। अगर इस ब्लॉग में सम्मिलित किसी भी चित्र या वीडियो पर आपका कॉपीराइट है और आप उसे BetterButter पर नहीं देखना चाहते तो हमसे संपर्क करें। उक्त सामग्री को ब्लॉग से हटा दिया जायेगा। हम किसी भी सामग्री के लेखक, फोटोग्राफर एवं रचनाकार को उसका पूरा श्रेय देने में विश्वास करते है।

Himanshu Pareek

हिमांशु एक लेखक हैं और उन्हें खान-पान, आयुर्वेद, अध्यात्म एवं राजनीति से सम्बंधित विषयों पर लिखने का अनुभव है। इसके अलावा हिमांशु को घूमना, कविताएँ लिखना-पढ़ना और क्रिकेट देखना व खेलना पसंद है।

COMMENTS (0)

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *