Search

Home / Top Cooking Recipes in Hindi / घर पर च्यवनप्राश बनाने का आसान तरीका

घर पर च्यवनप्राश बनाने का आसान तरीका

Kavita Uprety | अक्टूबर 31, 2018

च्यवनप्राश सदियों से जानी मानी एक ऐसी आयुर्वेदिक औषधि है जिसका सेवन करने की सलाह बच्चों से ले कर बूढ़ों तक को दी जाती है। खासतौर पर सर्दियों के मौसम में ठंड, कफ़ और खांसी जैसी मुसीबतों से बचने के लिए च्यवनप्राश का सेवन करना बहुत लाभदायक है।

इस गुणकारी औषधि को हम घर पर भी बना सकते हैं क्यूंकि इसमें प्रयुक्त होने वाली सामग्रियों में ताज़ा आंवला सबसे महत्वपूर्ण है बाकी के सभी पदार्थ किसी भी आयुर्वेदिक सामान या पंसारी की दुकान से सरलता से प्राप्त किए जा सकते हैं। आइये जानते हैं कैसे आसानी से घर पर बनायें बाज़ार जैसा जायकेदार च्यवनप्राश-

 

ज़रूरी सामग्री –

आंवला – 250 ग्राम

गुड – ½ कप

शहद – ½ कप

घी – 2 ½  बड़े चम्मच

खजूर – 6-7 (गुठली निकले हुए)

 

मसाला बनाने की सामग्री जिसे पीस कर बारीक पावडर बना लें

हरी इलायची –3-4

काली मिर्च – ½  बड़ा चम्मच

दालचीनी – ½  इंच का टुकड़ा

सौंफ – ¾  बड़ा चम्मच

केसर – 5 – 6पंखुड़ी

 

बनाने की विधि –

250 ग्राम आंवले को कूकर में 2 सीटी आने तक उबाल लें। इसी बीच बीज निकले हुए खजूर को गरम पानी में 15 मिनट तक भिगा दें। अब उबले हुए आंवलों को कूकर से निकाल कर बीज़ अलग कर लें। इन्हें ग्राइंडर में भीगे हुए खजूरों के साथ पीस लें। आप चाहें तो जिस पानी में खजूर भिगाये हैं उस में से थोड़े से पानी का इस्तेमाल इसे पीसने के लिए कर सकती हैं। अब इस पेस्ट को अलग रख दें।  

एक दूसरे साफ और सूखे ग्राइंडर में सौंफ, काली मिर्च और हरी इलायची डालें। इसमें दालचीनी का टुकड़ा और केसर की पंखुड़ियाँ भी मिलाएँ और एक बारीक सूखा पाउडर बना लें।

अब एक नॉन स्टिक कड़ाही में घी डालें और गरम होने पर इसमें आंवलों और खजूर की प्यूरी डालें और आठ से दस मिनट तक पकायें। अब इसमें ½  कप गुड और ½ कप शहद मिलाएँ और 4 से 5 मिनट तक पकायें। इस मिक्सचर में अब अलग से पीसे गए सभी सूखे पदार्थों का पाउडर मिलाएँ और तब तक पकायें जब तक कि आपको च्यवनप्राश जैसा गाढ़ापन नहीं मिल जाता।  

 

च्यवनप्राश बनाने की पूरी विधि जानने के लिए यहाँ क्लिक कीजिये –

https://www.betterbutter.in/recipe/56653/homemade-chyavanprash

आपका घर में बना हुआ च्यानवनप्राश तैयार है। पूरी सर्दी भर इसे खुद भी खाएं और अपने परिवार को भी खिलाएँ।

चित्र स्त्रोत: Public Domain Pictures Pixabay, Wikimedia Commons

Kavita Uprety

COMMENTS (0)

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *