गुलाब जामुन | Gulab jamun in Hindi

0 रिव्यूज़
रेट करें
द्वाराSwapna Sunil
निर्मित तिथि 18th Apr 2017
  • गुलाब जामुन , How to make गुलाब जामुन
गुलाब जामुन Swapna Sunil
  • गुलाब जामुन | Gulab jamun in Hindi (7 लाइक्स )

  • 0 रिव्यूज़
    रेट करें
  • Swapna Sunil
    निर्मित तिथि 18th Apr 2017

About Gulab jamun in hindi

गुलाब जामुन सब कि मनपसंद मिठाई है और यह घर पे बनाना बहुत ही आसान है, गुलाब जामुन ज़्यादा से मावा के साथ या फिर मिल्क पाउडर से बनाई जाती है, आज में मिल्क पाउडर से बनाई गई गुलाब जामुन की रेसिपी बता रही हूँ जो बनाने में बहुत ही आसान है और इसका स्वाद भी लाजवाब हैं ।

  • तैयारी का समय20मिनट
  • पकाने का समय30मिनट
  • पर्याप्त10लोग
गुलाब जामुन रेसिपी

गुलाब जामुन बनाने की सामग्री ( Gulab jamun Banane Ki Samagri Hindi Me )

  • 1 कप : मिल्क पाउडर( अमूल / नीडो इस्तमाल करे)
  • 2 टेबल स्पून : मैदा
  • एक चुटकी : बेकिंग सोडा
  • 1 टीएसपी : घी
  • एक चुटकी : नमक
  • 2 टेबल स्पून : दही
  • घी या तेल तलने के लिए
  • चाशनी के लिए : 1.5 कप : चीनी
  • 2 कप : पानी
  • एक चुटकी : केसर (ऑप्शनल)
  • 1 टीएसपी : गुलाब जल (ऑप्शनल)
  • 1 टीएसपी : इलाइची पाउडर

गुलाब जामुन बनाने की विधि ( Gulab jamun Banane Ki Vidhi Hindi Me )

  1. एक चन्नी में मिल्क पाउडर, मैदा, सोडा, नमक डाल के चला लीजिये.
  2. अब इन्हें एक भगोने में ले कर घी और दही मिला लिजिए, और चिकना आटे की तरह गूंद लीजिये. अगर ज़्यादा दही चाहे तो मिला लीजिये.
  3. अब इसे पांच मिनट के लिए ढक कर रख लीजिए.
  4. चाशनी के लिए : एक बर्तन में चीनी और पानी डाल कर उबाल आने तक पका लीजिये, अब इसमें इलाइची पाउडर, केसर और गुलाब जल डाल कर मिला लीजिए और चिकना होने तक पका लीजिये कोई थार की ज़रूरत नही हैं.
  5. अब गूंदा हुआ मिश्रण से छोटे छोटे गोले बना लीजिए, बिना कोई दरार के स्मूथ गोले बनने चाहिए.
  6. एक कड़ाही में तलने के लिए तेल या फिर घी को गरम कर लीजिए, और आँच मध्यम आँच पर रख कर जामुन को सुनहरा होने तक तल लीजिये, और चाशनी में डाल लें.
  7. जामुन डालते समय यह याद रखिये की चाशनी गरम होनी चाहिए.
  8. जामुन को दो घंटों तक चाशनी में भिगो ले ,और उसके बाद परोसें.
  9. बहुत ही स्वादिष्ट और आसान गुलाब जामुन आप भी अपने घर पर बनाकर अपने रिश्तेदारों के साथ उनका आनंद लीजिये !
मेरी टिप: तेल या घी ज़्यादा गरम नही होनी चाहिए .जामुन डाल ते ही वह तैल में बैठ कर धीरे से ऊपर आनी चाहिए!

Reviews for Gulab jamun in hindi (0)