राजस्थानी घेवर | Rajasthani ghevar in Hindi

4.5 from 2 रिव्यूज़
रेट करें
द्वारा Honey Lalwani
निर्मित तिथि 22nd Apr 2017
  • राजस्थानी घेवर, How to make राजस्थानी घेवर
राजस्थानी घेवरHoney Lalwani
  • राजस्थानी घेवर | Rajasthani ghevar in Hindi (24 लाइक्स )

  • 2 रिव्यूज़
    रेट करें
  • Honey Lalwani
    निर्मित तिथि 22nd Apr 2017

About Rajasthani ghevar in hindi

पारंपरिक राजस्थानी मिठाई जो अक्सर सावन में मिलती है, अब इसे घर पर बनाएँ, और जब मन करे खाये।

आज हम बहुत ही आसान और साधारण सा व्यंजन बनाएंगे जिसे सभी उम्र के लोगों के द्वारा पसंद किया जाता है। राजस्थानी घेवर बहुत ही स्वादिष्ट और लाजवाब व्यंजन है जो पुरे भारत में काफी लोकप्रिय है। राजस्थानी घेवर एक ऐसी डिश है नाम सुनते ही सबके मुँह में पानी आ जाता है । इस लज़्ज़तदार राजस्थानी घेवर को आप किसी भी पार्टी या विशेष अवसर पर बना सकते हैं । झटपट से बनने वाली इस रेसिपी की तैयारी में सिर्फ 10 मिनट का समय लगता है और अच्छी तरह से पकाने में 20 मिनट का समय लगता है। बेटर बटर के राजस्थानी घेवर इन हिंदी में आपको इसे बनाने की विधि हिंदी में मिलेगी जिसकी सहायता से आप बड़े ही आसानी से ढाबा स्टाइल राजस्थानी घेवर बना सकते हैं। Honey Lalwani द्वारा लिखी गयी इस रेसिपी में आपको इसे बनाने की क्रमशः विधि मिलेगी जो 6 लोगो को सर्वे करने के लिए पर्याप्त है। तो इंतज़ार किस बात का है जल्दी से ये आसान सी रेसिपी देखिये और घर पर राजस्थानी घेवर बना कर सबका दिल जीत लीजिये।

  • तैयारी का समय10मिनट
  • पकाने का समय20मिनट
  • पर्याप्त6लोग
राजस्थानी घेवर रेसिपी

राजस्थानी घेवर बनाने की सामग्री ( Rajasthani ghevar Banane Ki Samagri Hindi Me )

  • मैदा 2 कप या 250 ग्राम
  • दूध 1/4 कप या 50 ग्राम
  • घी 1/4 कप या 50 ग्राम
  • पानी 4 कप या 800 ग्राम
  • 4-5 बर्फ के टुकड़े
  • 1 चम्मच नींबू का रस
  • घी या तेल तलने के लिए
  • 1 तार की चाशनी 2 कप
  • सजाने के लिए रबड़ी और ड्रायफ्रूट्स

राजस्थानी घेवर बनाने की विधि ( Rajasthani ghevar Banane Ki Vidhi Hindi Me )

  1. सबसे पहले एक बड़े बाउल में बर्फ के टुकड़े और घी डाल कर फेटे। जब घी क्रीम जैसा हो जाये तब बर्फ के टुकड़े निकाल के फेंक दे।
  2. घी को थोड़ा और फेंटे, धीरे धीरे मैदा, दूध और पानी डालकर फेंटते जाए, जब तक की बिना गुठली के पतला घोल ना तैयार हो जाये।
  3. ध्यान रखे घोल इतना पतला होना चाहिए कि गिराने पर पतली धार सी बने। इस घोल में 1 चम्मच नींबू का रस मिलाएं। इससे मैदे की बाइंडिंग बनी रहती है।
  4. अगर आपके पास जलेबी बनाने की बोतल हैं तो घेवर का बेटर उस बोतल में भरे , नही तो बड़े चम्मच की मदद से घेवर का बेटर गरम तेल में ऊंचाई से डाले। एक बड़ा चम्मच बेटर डाले। आप देखेंगे कि पूरा भगोना झाग से भर गया है। गैस की फ्लेम कम करे।
  5. एक बार जब झाग काम हो जाये तब दुबारा एक बड़ा चम्मच बेटर बीचोबीच डाले। बीच मे से किसी चाकू की मदद से छेद बनाये। ये प्रकिया 3-4 बार दोहराएँ।
  6. तैयार घेवर को सुनहरा होने तक फ्राई करें।
  7. थाली में एक कटोरी रखे उस कटोरी पर घेवर निकल कर रखे, ताकि अतिरिक्त तेल नीचे थाली में निकल जाए। इसी तरह सारे घेवर बनाएँ
  8. तैयार घेवर पर चाशनी डाले। घेवर को ऐसे भी खाया जा सकता है, अगर आप चाहे तो रबड़ी और ड्रायफ्रूट्स से सजाएं और परोसे।
मेरी टिप: चाशनी वाले घेवर 10-12 दिन तक खाए जा सकते है। बिना चाशनी के सूखे घेवर 1 महीने तक इस्तेमाल किये जा सकते है।

Reviews for Rajasthani ghevar in hindi (2)

Shardha Jaiswal3 months ago
Nice
Reply
Honey Lalwani
2 months ago
thank u :blush:

Anita Anand3 months ago
Yummy
Reply
Honey Lalwani
3 months ago
thank u so much :blush:

आपने यह रेसिपी बनायी है? फोटो शेयर करें